DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नमाज ए जुमे में अमन ओ अमान के लिए रोजेदारों ने की दुआ

नमाज ए जुमे में अमन ओ अमान के लिए रोजेदारों ने की दुआ

पाक माह रमजान को लेकर चारों तरफ खुशियों का माहौल है। रोजेदार इबादत में मशगूल हैं। इसी के साथ शुक्रवार को रमजान उल मुबारक महीने के पहले जुमे पर हजारों रोजेदारों ने नमाज ए जुमा अदा की। रोजेदारों ने अल्लाह से अपने गुनाहों की माफी मांगी, साथ ही देश व राज्य में अमन ओ अमान कायम रहे इसके लिए भी दुआ मांगी। रतन टॉकिज एकरा मसजिद, अपरबाजार स्थित जुमा मसजिद, थड़पखना मसजिद, लेक रोड स्थित राइन मसजिद, डॉ फतेहउल्लाह मसजिद, रंगसाज मसजिद, कांटाटोली मसजिद, चांदनी मसजिद समेत अन्य मसजिद नमाज से एक घंटे पहले ही भर गई थी। नमाज से पहले मसजिदों में तकरीर हुई। इसमें उलेमाओं ने रमजान और उसके फजीलत बयां की। जुमा की नमाज से पहले और बाद में रोजेदारों ने कुरआन की तिलावत की और दुआएं मांगते रहे। मसजिदें भरीं तो सड़क पर अदा की नमाज माह ए रमजान के पहले जुमे की नमाज अदा करने के लिए रोजेदारों का 12 बजे से ही मसजिद आना शुरू हो गया था। सवा बारह बजे तक मसजिदें नमाजियों से खचाखच भर गई थीं। जगह नहीं मिलने की वजह से अधिकतर रोजेदारों को सड़कों पर ही नमाज अदा करनी पड़ी। सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस प्रशासन की ओर से मसजिदों के बाहर पुलिस बल की भी तैनाती की गई थी। मौसम ने लिया इम्तिहान शुक्रवार को सुबह से निकली कड़ी धूप ने रोजेदारों का कड़ा इम्तहान लिया। भीषण गर्मी से लोग बेहाल रहे। पूरे दिन कड़ी धूप में भी अपने रोजे रखकर लोगों ने खुदा के सजदें में सिर झुकाया। पढ़ा गया सलातों सलामरमजान के पहले जुमा पर लोगों ने अपनी तैयारी पहले ही कर ली थी। अलसुबह लोगों ने मिलकर सहरी खायी। उसके बाद फजर की नमाज पढ़ी और कुरआन की तिलावत की। यातायात रहा प्रभावित जुमे की नमाज अदा करने को लेकर दो जून को शहर की यातायात व्यवस्था पूरी तरह से प्रभावित रही। मुख्य मार्गों पर तो जमा लगा ही, साथ ही बाइलेन में भी वाहनों की कतार लगी रही। यह स्थिति दोपहर एक से ढाई बजे तक बनी रही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Prayers have prayed for Aman O Aman in Namaz A Jume