ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंड रांचीपरमहंस योगानंद का जन्मदिन आज

परमहंस योगानंद का जन्मदिन आज

योगानंद की शिक्षा आधुनिक युग के लिए अमृत तुल्य हैं, विश्व विख्यात पुस्तक योगी कथामृत के लेखक परमहंस योगानंद का जन्म दिन मंगलवार को है। सौ साल पहले...

परमहंस योगानंद का जन्मदिन आज
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,रांचीTue, 05 Jan 2021 03:03 AM
ऐप पर पढ़ें

रांची। वरीय संवाददाता

विश्व विख्यात पुस्तक योगी कथामृत के लेखक परमहंस योगानंद का जन्म दिन मंगलवार को है। सौ साल पहले वर्ष 1920 में परमहंस योगानंद ने अमेरिका के अपने शिष्यों और छात्रों को क्रिया योग के प्रशिक्षण की जो शुरुआत की वह आज पूरी दुनिया में फैल चुकी है। इसके पहले वे भारत में अपना प्रशिक्षण प्रारंभ कर चुके थे। परमहंस योगानंद का जन्म पांच जनवरी 1893 को गोरखपुर में बंगाली परिवार हुआ था। उनके बचपन का नाम मुकुंद घोष था। भारत में योगदा सत्संग सोसाइटी की स्थापना उन्होंने वर्ष 1917 में की थी। रांची के चुटिया स्थित आश्रम में वर्ष 1920 में रांची आश्रम में ध्यान के दौरान उन्होंने अमेरिकी लोगों को देखा। उसके कुछ ही दिन बाद उन्हें अमेरिका के धार्मिक उदारवादियों के अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में भारत के प्रतिनिधि के रूप में भाग लेने के लिए बुलाया गया। अमेरिका में योगानंद जी ने दैनिक ध्यान, विशेष रूप से क्रिया योग के प्रचार- प्रसार के लिए सेल्फ- रियलाइजेशन फेलोशिप की स्थापना की।

योगानंद की शिक्षा में भक्ति, कर्म और ज्ञान योग के विषय है। इसके साथ ही भारत के प्रधान दर्शन जैसे सांख्य और वेदांत, विश्व के अन्य प्रमुख दर्शनों के मूलभूत विचार और आदर्श भी सम्मिलित हैं। योगानंद की शिक्षा आधुनिक युग के लिए अमृत तुल्य हैं। उनका कहना था कि आप योग प्रविधियों का अभ्यास कीजिए और स्वयं देखिए कि मेरी बात कितनी सच हैं। वर्तमान में योगदा सत्संग सोसाइटी और सेल्फ रियलाइजेशन फेलोशिप के जरिए परमहंस योगानंद की शिक्षा से सैकड़ों लोगों का जीवन बदल रहा है।

epaper