Sunday, January 23, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंड रांचीपहाड़िया जाति ने मूलभूत सुविधाओं की मांग को लेकर दायर की जनहित याचिका

पहाड़िया जाति ने मूलभूत सुविधाओं की मांग को लेकर दायर की जनहित याचिका

हिन्दुस्तान टीम,रांचीNewswrap
Tue, 30 Nov 2021 09:50 PM
पहाड़िया जाति ने मूलभूत सुविधाओं की मांग को लेकर दायर की जनहित याचिका

रांची। संवाददाता

राज्य के साहिबगंज जिले के बरहेट, पथना, बोरियो, मंडारो और तालझरी प्रखंड के कई गावों में रहने वाले पहाड़िया जाति के लिए बुनियादी सुविधाओं की मांग को लेकर हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की गई है। अधिवक्ता अनूप कुमार अग्रवाल ने सूर्य कुमार पहाड़िया की ओर से याचिका दाखिल की है।

इसमें कहा गया है कि साहिबगंज जिले से पांच किमी के दायरे में उक्त गांव आते हैं, जहां कई गांव पहाड़ पर बसे हैं। वहां पर न तो पेयजल की सुविधा है और न सड़क जैसी आधारभूत संरचना है। स्कूल के आधे-अधूरे भवन बने हैं, जहां पर गांव वाले अपने पशुओं को बांधते हैं। स्वास्थ्य केंद्र पूरी तरह से बंद है और पेयजल लाने के लिए गांव वालों को दो-तीन किलोमीटर जाना पड़ता है। न तो समय से राशन मिलता और न ही मनरेगा के तहत किसी को कोई रोजगार मिलता है। जबकि कई गांव वालों का जॉब कार्ड बना दिया गया है। नियमानुसार उन्हें मनरेगा से काम नहीं मिलने पर भत्ता दिया जाना चाहिए। इसके अलावा गांव वालों को किसी भी सरकारी योजनाओं का लाभ मिलता है।

आदिम जाति को घर राशन पहुंचाने की सरकारी योजना है, लेकिन गांव तक पहुंचने के लिए कोई रास्ता नहीं होने के कारण उन्हें राशन नहीं मिलता है। गांव वालों को 20 किलोमीटर पैदल पहाड़ से नीचे उतरना पड़ता है। यहां पर जंगल से चुनकर लाई लकड़ी को बेचकर जीवनयापन होता है। रोजाना की पारिवारिक आय 55 रुपये है, जो कि सूखी लकड़ी को बेचकर आती है। अदालत से उक्त गावों में आधारभूत सुविधाएं पहुंचाने की मांग की गई है। ताकि वहां के लोग भी अच्छे तरीके से अपना जीवनयापन कर सकें।

epaper

संबंधित खबरें