DA Image
23 जुलाई, 2020|11:03|IST

अगली स्टोरी

निशिकांत दुबे की डॉक्टर की उपाब्धि फर्जी : झामुमो

default image

झारखंड मुक्ति मोर्चा के महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने गोड्डा के सांसद निशिकांत दुबे पर चुनाव आयोग को गलत जानकारी देने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि सांसद की डॉक्टरेट की डिग्री फर्जी है। गोरखपुर के बिजेंद्र कुमार पांडेय को दिल्ली विश्वविद्यालय ने उनके आरटीआई के जवाब में बताया है कि 1993 में निशिकांत दुबे नाम से किसी व्यक्ति ने पार्ट टाइम एमबीए नहीं किया है। सुप्रियो ने मांग की है कि दुबे सहित सभी सांसदों के चुनावी हलफनामे की जांच की जाए। उन्होंने कहा कि दुबे ने हलफनामे में खुद के एमबीए होने की जानकारी दी है जो सूचना के तहत निकाली गई जानकारी में गलत पाई गई है। झामुमो नेता ने इस मामले को लेकर देवघर सदर थाना में एक आवेदन का भी हवाला दिया। आवेदन में सूचना अधिकार के तहत दिल्ली युनिवर्सिटी से मिली जानकारी को भी संलग्न किया गया है। इसमें दिल्ली यूनिवर्सिटी प्रबंधन से पूछा गया है कि निशिकांत दुबे ने वहां से 1993 में पार्ट टाइम एमबीए किया है या नहीं। इसके जवाब में यूनिवर्सिटी का कहना है कि इस नाम के किसी व्यक्ति ने 1993 में यूनिवर्सिटी से पार्ट टाइम एमबीए नहीं किया है।उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को दूध का दूध और पानी का पानी करना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया गया है कि सांसद ने अपनी शैक्षणिक जानकारी गलत दी है। उन्होंने कहा कि भाजपा के फायर ब्रांड नेता झूठे आडंबरों से लदे हैं। यह समय समय पर प्रमाणित हो रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nishikant Dubey 39 s doctor 39 s achievement fake JMM