ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड रांची प्रकृति पर्व सरहुल बडकाटोली गांव में पारंपरिक ढंग से मनाया गया

प्रकृति पर्व सरहुल बडकाटोली गांव में पारंपरिक ढंग से मनाया गया

प्रकृति पर्व सरहुल तोरपा बडकाटोली गांव में मंगलवार को धूमधाम से मनाया गया। सरना स्थल में 22पहडा मुंडा दिशुम चेतना कोम्पाट निमित तोपनो, पडहा तोपनो...

 प्रकृति पर्व सरहुल बडकाटोली गांव में पारंपरिक ढंग से मनाया गया
हिन्दुस्तान टीम,रांचीWed, 03 Apr 2024 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

तोरपा प्रतिनिधि। प्रकृति पर्व सरहुल तोरपा बडकाटोली गांव में मंगलवार को धूमधाम से मनाया गया। सरना स्थल में 22पहडा मुंडा दिशुम चेतना कोम्पाट निमित तोपनो, पडहा तोपनो राजा लागों बिरसा तोपनो की अगुवाई में पहान पुजारी महराज दिवा पहान, पहान पुजारी राडसी तोपनो ने विधि विधान के साथ सरना पूजा किया। अच्छी फसल होने की कामना की। पवित्र सखुआ फूल का वितरण किया गया। इस मौके पर पडहा राजा ने कहा कि पूर्वजों की रीति रिवाज को आधुनिकता में नही भूलाया जा सकता। प्रकृति ने मनुष्य को बहुत कूछ दिया है,पर कूछ मांगा नही है। प्रमुख रोहित सुरीन ने कहा आदिवासी समाज का प्रकृति से काफी लगाव है। सरहुल पर्व के समय प्रकृति खिल उठती है। इस मौके पर हातु सभा के अध्यक्ष दुर्गा तोपनो, दिशा पहान, जेम्स तोपनो, रेला तोपनो, अजीत तोपनो, जुलियन तोपनो, बिरसा तोपनो, सनिका कंडुलना, रोहित तोपनो आदि उपस्थित थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें