DA Image
18 जनवरी, 2021|12:12|IST

अगली स्टोरी

रांची में जर्मन तकनीक से बनेंगे आधुनिक लाइट हाउस

रांची में जर्मन तकनीक से बनेंगे आधुनिक लाइट हाउस

रांची। हिन्दुस्तान ब्यूरो

लाइट हाउस परियोजना निर्माण के लिए राजकोट, अगरतला, इंदौर, लखनऊ और चेन्नई के साथ रांची को मॉडल के रूप में चुना गया है। रांची में इस प्रोजेक्ट के तहत 1008 लाइट हाउस बनेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को ऑनलाइन इस प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया।

रांची में लाइट हाउस में प्रीकास्ट कंक्रीट कंस्ट्रक्शन सिस्टम-3 डी प्रीकास्ट वॉल्यूमेट्रिक से बनेंगे। यह एक जर्मन तकनीक है। यह भारत में इस्तेमाल की जा रही नवीनतम तकनीकों में से एक है। झारखंड में इसे पहली बार अपनाया जा रहा है। इसमें सभी कमरे अलग-अलग बनेंगे और बाद में जोड़े जा सकने वाले खिलौने की तरह जोड़े जाएंगे।

लाइट हाउस योजना की विशेषता :

315 वर्गफीट के एक लाइट हाउस में एक हॉल, एक शयन कक्ष, एक रसोई घर, एक बालकनी, एक बाथरूम एवं एक शौचालय होगा। नई तकनीक से निर्मित होने वाले कमरे को बिल्डिंग-ब्लॉक रूप में कारखानों में निर्मित किया जाएगा और मल्टी स्टोरी टॉवर का निर्माण करने के लिए एक के ऊपर एक रखा जाएगा। यह तकनीक प्रौद्योगिकी एवं धूल और प्रदूषण मुक्त वातावरण के साथ पारंपरिक इमारतों की तुलना में घरों का तेजी से और गुणवत्तापूर्ण निर्माण सुनिश्चित करती है। इस परियोजना में बिजली, पानी, आधारपूर्ण संरचना, पार्किंग व्यवस्था, लिफ्ट, अग्निशमन, पार्क इत्यादि की व्यवस्था भी होगी। पीएम मोदी ने 26 जनवरी 2022 से पहले प्रोजेक्ट पूरा करने का लक्ष्य दिया है।

फ्लैट की खासियत

-विट्रीफाइड टाइल्स युक्त फर्श

-स्टेनलेस स्टील सिंक

-दीवारों पर प्लास्टर ऑफ पेरिस

-उच्च गुणवत्ता सेनेटरी फिटिंग

-रसोई में प्लेटफार्म के नीचे कैबिनेट

-बेडरूम में अलमारी, डिस्टेंपर युक्त रंग रोगन

-एलईडी बल्ब और पंखे

-यूपीवीसी खिड़कियां मच्छरदानी सहित

-अग्निशमन की व्यवस्था

पात्रता

-वैसे परिवार जो 17 जून 2015 के पहले से नगर निगम क्षेत्र में निवास करते हैं

-परिवार की सालाना आमदनी अधिकतम तीन लाख हो

-आवेदक या उसके परिवार के नाम से भारत में कहीं पक्का मकान नहीं हो

-योजना के अंतर्गत लागू परिवार में पति, पत्नी एवं अविवाहित बच्चे शामिल होंगे

आवेदन के लिए जरूरी दस्तावेज

-लाभार्थी का पहचान पत्र और संयुक्त धारक का पहचान पत्र (स्व सत्यापित छायाप्रति)

-लाभार्थी की पासपोर्ट साइज तीन फोटो

-लाभार्थी का बैंक अकाउंट संख्या और पासबुक (स्व सत्यापित छायाप्रति)

-लाभुक सहमति पत्र, स्व घोषणा पत्र

-आधार कार्ड और चालू मोबाइल नंबर

नोट : पहचान पत्र में पासपोर्ट, पैन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, राशन कार्ड, राजस्व प्राधिकार प्रमाण पत्र, बैंक पासबुक, बीपीएल कार्ड में से कोई भी मान्य होगा।

ऐसे करें आवेदन :

-लाभार्थी नगर निगम से आवेदन फॉर्म, घोषणा पत्र और लाभुक सहमति पत्र प्राप्त कर उसे भरकर नगर निगम कार्यालय में जमा कर सकते हैं। आवेदक फार्म जमा करने के बाद प्राप्ति रसीद के तौर पर एक प्रति अपने पास सुरक्षित रखें।

133.99 करोड़ में बनेंगे 1,008 आवास

केन्द्र सरकार 5.5 लाख रुपए और राज्य सरकार देगी एक लाख रुपए

लाभुक का अंशदान 6.79 लाख रुपए होगा।

झारखंड को मिले पांच पुरस्कार

शिलान्यास कार्यक्रम के दौरान झारखंड को पांच पुरस्कार मिले। उत्कृष्ट आवास के लिए जामताड़ा के बादल दास, आदित्यपुर के शंभू सरदार एवं मानगो के संजय धरा को सम्मानित किया जाएगा। वहीं उत्कृष्ट नगर परिषद के क्षेत्र में झुमरी तिलैया नगर परिषद को सम्मानित किया जाएगा। साथ ही, झारखंड राज्य को बेस्ट कम्युनिटी मोबिलाइजेशन के लिए पुरस्कार दिया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Modern light houses will be built in Ranchi with German technology