DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मजलिस का पौष मेला संपन्न, चंद्रबिंदु के गीतों पर झूमे संगीतप्रेमी

मजलिस का पौष मेला संपन्न, चंद्रबिंदु के गीतों पर झूमे संगीतप्रेमी

मेकॉन की सांस्कृति इकाई मजलिस का तीन दिवसीय पौष मेला मंगलवार को बांग्ला बैंड ‘चंद्रबिंदु की जीवंत प्रस्तुति के साथ संपन्न हुआ। खासतौर युवाओं के बीच लोकप्रिय इस बांग्ला बैंड ने अपनी प्रस्तुतियों ने संगीतप्रेमियों को झूमने पर मजबूर कर दिया। मेकॉन के निदेशक (कॉमर्शियल) सह मजलिस के अध्यक्ष गौतम चटर्जी, सांस्कृतिक सचिव अर्णव बोस, तनिमा चटर्जी, सौमेन किस्कू समेत बड़ी संख्या में संगीतप्रेमियों ने इस कार्यक्रम का आनंद उठाया।

चंद्रबिंदु के मुख्य गायकों अनिंदो चटर्जी और उपल सेनगुप्ता के साथ अन्य कलाकारों- अरूप पोद्दार, सुरोजीत मुखर्जी, राजशेखर कुंडू, शिवब्रतो विश्वास और सौरभ चटर्जी ने श्रोताओं की पसंद को ध्यान में रखते हुए बैंड के चर्चित गीतों के साथ शुरुआत की। उन्होंने जब- आमार भीमदेशी तारा...के बोल छेड़े तो सभागार तालियों से झूम उठा। आमी जे रिक्शावाला... गीत पर श्रोता भी खुद को गुनगुनाने से नहीं रोक सके। युवाओं का जोश चंद्रबिंदु की प्रस्तुति- जू जू... पर देखते ही बना। बैंड के साउंड इंजीनियर- तीर्थंकर मजुमदार ने ध्वनि से अच्छा माहौल बनाया।

चंद्रबिंदु के अनिंदो चटर्जी बांग्ला फिल्मों में अभिनय के अलावा निर्देशन की कमान भी संभाल चुके हैं। दर्शकों ने उन्हें हाथोंहाथ लिया। मजलिस की ओर से बड़े स्तर पर पहली बार मेकॉन कम्युनिटी हॉल में तीन दिवसीय पौष मेला का आयोजन किया गया। इसमें बच्चों के लिए विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं। कपड़ों, फैंसी ज्वेलरी आदि के स्टॉल लगाए गए। साथ ही, फूड स्टॉल में बंगाली मिठाइयां विशेष आकर्षण का केंद्र रहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: majlis paush mela