DA Image
16 जनवरी, 2021|6:07|IST

अगली स्टोरी

जस्टिस विक्रमादित्य के निधन पर साहित्यकारों ने जताया शोक

default image

रांची। जस्टिस विक्रमादित्य के निधन पर सृजन संसार के साहित्यकार सदानंद सिंह यादव, डॉ सुरेंद्र कौर नीलम, सुनील बादल, चंद्रिका ठाकुर देशदीप, सारिका भूषण, बीना प्रसाद विम्मी, विभा वर्मा, सुधा करण, मुनमुन डाली, राजीव थेपरा, निशिकांत पाठक, रूणा रश्मि, रंजना वर्मा, सूरज श्रीवास्तव, मीनू मीणा सिन्हा और प्रशांत गौरव आदि ने शोक व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि उनका कृतित्व और व्यक्तित्व हमेशा याद रहेगा। उनका सादगी एवं नेक व्यवहार हम लोग की स्मृति में हमेशा विद्यमान है। उनके निधन से हम साहित्यकारों ने एक अमूल्य रत्न को खो दिया, जिनकी भरपाई अब संभव नहीं है। इसके साथ ही झारखंड हिंदी साहित्य-संस्कृति मंच से जुड़े साहित्यकारों ने भी शोक संवेदना व्यक्त की है। जस्टिस विक्रमादित्य इस मंच के संरक्षक भी थे। मंच के साहित्यकारों ने कहा कि उनका निधन एक अपूरणीय क्षति है। पिछले कई महीनों से मंच के पटल पर वह बेहद सक्रिय थे। इतने कि नवोदित साहित्यकारों को भी उनसे प्रेरणा मिल रही थी। साथ ही कभी-कभी उनके कुछ शब्द अवसान का आभास भी करा जाते थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Literature mourns the death of Justice Vikramaditya