DA Image
26 अक्तूबर, 2020|7:17|IST

अगली स्टोरी

जेटीयू ने 65 तकनीकी संस्थानों को दी अस्थायी संबद्धता

default image

झारखंड प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (जेटीयू) ने अकादमिक सत्र 2020-21 के लिए राज्य के 65 विभिन्न तकनीकी शिक्षण संस्थानों को अस्थायी संबद्धता (प्रोविजन एफिलिएशन) दी। इनमें इंजीनियरिंग, पॉलिटेक्निक, फार्मेसी कॉलेज शामिल हैं। यह संबंद्धता एआईसीटीई से प्राप्त एफिलिएशन के आधार पर दी गई है। कुलपति डॉ गोपाल पाठक ने बताया कि कोरोना की स्थिति सामान्य होने के बाद अस्थायी संबद्धता प्राप्त करनेवाले शिक्षण संस्थानों का भौतिक सत्यापन किया जाएगा। इसमें जिन संस्थानों में उनकी ओर से प्रस्तुत किए गए दस्तावेजों के अनुसार व्यवस्था नहीं पाई जाएगी, तो उनकी संबद्धता रद्द की जा सकती है।

जेटीयू की ओर से जिन तकनीकी शिक्षण संस्थानों को अस्थायी संबंद्धता दी गई है, उनमें पीपीपी मोड पालिक्टेक्निक कॉलेज- 8 और पीपीपी मोड इंजीनियरिंग कॉलेज- 3 (रामगढ़, दुमका व चाईबासा इंजीनियरिंग कॉलेज) और सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज- 2 (बीआईटी सिंदरी व निफ्ट हटिया) और प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज-11, शामिल हैं। इसके अलावा सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेज- 22 व निजी पॉलिटेक्निक कॉलेज- 17 व फार्मेसी कॉलेज-4, को अस्थायी संबद्धता दी गई है।

गर्वमेंट पॉलिटेक्निक खूंटी इस बार भी चूका

गर्वमेंट पॉलिटेक्निक कॉलेज, खूंटी ने पिछली बार की तरह इस बार भी संबद्धता के लिए आवेदन नहीं किया। इसके कारण उसे संबद्धता नहीं मिली। लिहाजा इस बार भी यहां छात्र नामांकन नहीं ले पाएंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:JTU gives temporary affiliation to 65 technical institutes