DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  रांची  ›  निर्णय की अवहेलना कर कुछ अधिवक्ता न्यायिक कार्य कर रहे, कठोर कार्रवाई संभव

रांचीनिर्णय की अवहेलना कर कुछ अधिवक्ता न्यायिक कार्य कर रहे, कठोर कार्रवाई संभव

हिन्दुस्तान टीम,रांचीPublished By: Newswrap
Mon, 27 Jul 2020 10:12 PM
निर्णय की अवहेलना कर कुछ अधिवक्ता न्यायिक कार्य कर रहे, कठोर कार्रवाई संभव

जिला बार एसोसिएशन (आरडीबीए) के निर्णय(रेसोलुशन) की अवहेलना करनेवाले अधिवक्ताओं एवं नोटरी पब्लिक के विरुद्ध कार्यकारिणी समिति कठोर निर्णय लेगी। बार एसोसिएशन के महासचिव कुन्दन प्रकाशन एवं प्रशासनिक सचिव पवन रंजन खत्री के अनुसार जो भी अधिवक्ता बंधु या नोटरी पब्लिक न्यायिक कार्य में लीन हैं, उन्हें चिह्नित किया जा रहा है। चिन्हित अधिवक्ताओं को अधिवक्ता कल्याण योजनाओं से कम से कम छह माह तक वंचित किया जा सकता है। निर्णय के आठवें दिन सोमवार को भी कुल 67 याचिका/आवेदन ड्रॉप बॉक्स में डाले गए। इनमें से 27 फ्रेश फाइलिंग एवं 40 सत्यापित प्रति एवं अन्य आवेदन शामिल हैं। आरडीबीए ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को ध्यान में रखते हुए बीते 20 जुलाई से दो सप्ताह तक न्यायिक कार्यों से दूर रहने का निर्णय लिया था। लेकिन आरडीबीए के निर्णय के विरुद्ध कई अधिवक्ता एवं नोटरी पब्लिक न्यायिक कार्य निष्पादन में लगे हैं, जो कि बहुत गंभीर और दु:खद है। सिविल कोर्ट के अधिवक्ता लगातार निर्णय की अवहेलना कर फाइलिंग के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से मामले की सुनवाई में शामिल हो रहे हैं। एसोसिएशन की मान-मर्यादा को ध्यान में रखते हुए लिए गए निर्णय को पालन करने का पुन: आग्रह किया गया है।

संबंधित खबरें