DA Image
22 अक्तूबर, 2020|10:38|IST

अगली स्टोरी

नक्सली बुरेदी नारायण को जमानत देने से हाईकोर्ट का इनकार

default image

नक्सली बुरेदी नारायण को झारखंड हाईकोर्ट ने जमानत देने से इनकार कर दिया है। सोमवार को जस्टिस एचसी मिश्र और जस्टिस राजेश कुमार ने एनआईए कोर्ट के आदेश के खिलाफ दायर याचिका खारिज कर दी। 23 सितंबर को इस पर सुनवाई पूरी करने के बाद अदालत ने फैसला सुरक्षित रख लिया था।

बुरेदी नारायण नक्सली सुधाकरण का भाई है। रांची पुलिस ने 30 अगस्त 2017 को स्टेशन रोड से उसे आधा किलो सोना और 25 लाख रुपये के साथ गिरफ्तार किया था। बाद में यह मामला एनआईए को स्थानांतरित कर दिया गया। एनआईए का कहना है कि बुरेदी नारायण भी नक्सली गतिविधि में संलिप्त है और सुधाकरण के पैसे का निवेश करता है। नक्सली गतिविधियों में भी वह शामिल रहा है। हालांकि बुरेदी नारायण की ओर से एनआईए के आरोपों को गलत बताया गया और कहा गया कि उन्हें जबरन इस मामले में घसीटा गया है। सभी पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने बुरेदी की याचिका खारिज कर दी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:High court refuses to grant bail to Naxalite Buradi Narayan