DA Image
22 नवंबर, 2020|1:39|IST

अगली स्टोरी

न्यूक्लियर पावर प्लांट के लिए तीन रिएक्टर बनाएगा एचईसी

default image

देश के परमाणु कार्यक्रमों के लिए भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर (बार्क) ने हेवी इंजीनियरिंग कॉरपोरेाशन (एचईसी) पर एक बार फिर भरोसा जताया है। बार्क से एचईसी को तीन न्यूक्लियर रिएक्टर के निर्माण का कार्यादेश मिला है।

इसमें दो रिएक्टर का इस्तेमाल रक्षा कार्यक्रमों में किया जाएगा, जबकि एक ऊर्जा संयंत्रों के लिए होगा। एचईसी ने इसके पहले भी बार्क के लिए न्यूक्लियर रिएक्टर का निर्माण किया है, लेकिन इस बार बड़े क्षमता वाले रिएक्टर तैयार किये जाएंगे। इन रिएक्टरों का उपयोग न्यूक्लियर ऊर्जा संयंत्रों और रक्षा उ‌पकरणों में किया जाएगा।

एचईसी ने मशीनों की बढ़ाई क्षमता :

एचईसी इस बार 700 मेगावाट क्षमता वाले न्यूक्लियर पावर प्लांट के लिए रिएक्टरों का निर्माण करेगा। इसके पहले एचईसी ने 250 और 500 मेगावाट क्षमता वाले प्लांट के रिएक्टरों का निर्माण किया है। बड़े रिएक्टरों के निर्माण के लिए एचईसी ने अपनी मशीनों की क्षमता भी बढ़ायी है और प्रारंभिक जांच में मशीनों को इसके निर्माण में सक्षम बताया गया है।

हेवी वाटर रिएक्टर बनाने में रूस की कंपनी करेगी मदद :

अधिकारियों के अनुसार परमाणु ऊर्जा संयंत्रों के लिए प्रेशराइज्ड हेवी वाटर रिएक्टर का निर्माण भी एचईसी करेगा। इसके लिए रूसी कंपनी आईआई पोलजुनोव साइंटिफिक (एनपीओ सीकेटीआई) से तकनीक मिलेगी। इसे लेकर एचईसी और रूसी कंपनी के बीच पहले ही समझौता हो चुका है।

सुपर साइक्लोट्रोन मैग्नेट बनाने में रूस, अमेरिका और जापान ने किया था इनकार :

एचईसी ने परमाणु कार्यक्रम की शुरुआत सुपर सोनिक साइकलोट्रोन मैग्नेट के निर्माण से की थी। रूस ने इसके निर्माण की तकनीक देने से भारत को इनकार कर दिया था। इसके बाद अमेरिका और जापान ने भी इनकार किया। फिर एचईसी ने इस चुनौती को स्वीकार किया। इस पर काम शुरू हुआ और इस मैग्नेट का निर्माण किया गया।

एचईसी में निर्मित परमाणु उपकरण काफी सफल रहे हैं। परमाणु ऊर्जा आयोग ने भी कई बार इसकी सराहना की है। देश के परमाणु वैज्ञानिक डॉ अनिल काकोडकर के नेतृत्व में भी यहां काम हुआ है। उनके नेतृत्व में एचईसी ने एक खास रिएक्टर का निर्माण किया था। इसके डिस्पैच समारोह में वह भी शामिल हुए थे।

न्यूक्लियर क्षेत्र में एचईसी की भावी योजनाएं :

- 1000 मेगावाट न्यूक्लियर प्लांट की फोर्जिंग

- 1000 मेगावाट के सभी उपकरणों के निर्माण की क्षमता

- न्यूक्लियर पनडुब्बी का रिएक्टर

- रेडिएशन शील्ड एसेंबली का निर्माण

- टरबाइन का निर्माण

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:HEC to build three reactors for nuclear power plant