DA Image
2 दिसंबर, 2020|9:34|IST

अगली स्टोरी

कोरोना पर स्वास्थ्य सचिव को राज्यपाल ने किया तलब, जताई चिंता

default image

राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव डॉ नितिन कुलकर्णी को बुधवार को तलब किया और राज्य की स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि राज्य में लोगों के बीच भ्रम की स्थिति फैल गई है कि कोरोना समाप्त हो गया है, जबकि हर दिन हजारों लोग संक्रमित हो रहे हैं और लोगों की जान भी जा रही है। स्थिति चिंताजनक है कि लोग मास्क का उपयोग नहीं कर रहे हैं और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का ही पालन कर रहे हैं।

राज्यपाल ने स्वास्थ्य विभाग को नागरिकों को जागरूक कर इसका पालन कराने और अभियान तेज चलाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि हमें नागरिकों को समझाना होगा कि जब तक कोरोना की वैक्सीन नहीं निकल जाती तब तक परहेज ही इसका उपचार है। राज्यपाल ने गोड्डा में कार्यरत चिकित्सक डॉ विजय कृष्ण श्रीवास्तव की संदेहास्पद मौत पर भी संज्ञान लिया। उन्होंने कहा कि किसी भी कर्मचारी को ससमय वेतन ना मिलना न्यायसंगत नहीं है। पूरे देश में जब सारी जनता इन कोरोना योद्धाओं के साथ है, उनके उत्साह को बढ़ा रही है और उनके प्रति अपना आभार भी प्रकट कर रही है, तो ऐसे में एक चिकित्सक की संदेहास्पद मृत्यु का एक बड़ा कारण आर्थिक तंगी होना अत्यंत संवेदनशील है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को इस दिशा में संवेदनशीलता से ध्यान देने का निर्देश दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Governor summoned Health Secretary to Corona expressed concern