DA Image
24 जनवरी, 2021|12:05|IST

अगली स्टोरी

स्थानीय नीति पर सदानों का विचार जाने सरकार : सदान मोर्चा

default image

मूलवासी सदान मोर्चा के सचिव विशाल कुमार सिंह ने कहा कि स्थानीय नीति को लेकर मुख्यमंत्री का बयान स्वागत योग्य है, लेकिन सरकार को नीति को परिभाषित करने से पहले 65 प्रतिशत मूलवासी सदानों के विचारों से भी अवगत होना चाहिए। उन्होंने कहा कि स्थानीय नीति बनाने को लेकर शुरू से मोर्चा केंद्रीय अध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद के नेतृत्व में आंदोलनरत रहा है। पूर्व की सरकार को भी मूलवासी सदान मोर्चा ने स्थानीय नीति को परिभाषित करने से पहले कई बिंदुओं पर अपनी राय दी थी। कुछ सुझाव माने गए और कुछ नहीं। विशाल कुमार ने कहा कि स्थानीय नीति को खतियान के आधार पर परिभाषित करने और 11 गैर अनुसूचित जिलों में भी लोगों को तृतीय और चतुर्थ श्रेणी की नौकरी शत-प्रतिशत देने की मांग को लेकर मोर्चा ने आंदोलन किया था। इसके बाद ही कुछ विधायकों ने भी इसके समर्थन में मुख्यमंत्री को लिखित दिया था। उन्होंने कहा कि जब तक खतियान को आधार मानकर स्थानीय नीति को परिभाषित नहीं किया जाता, तबतक झारखंड राज्य बनने का उद्देश्य पूरा नहीं होगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Government should know the views of the Houses on local policy Sadan Morcha