DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैट्रिक और इंटर परीक्षा परिणाम की जांच कराये सरकार

आजसू पार्टी ने जैक द्वारा जारी इंटर साइंस और मैट्रिक परीक्षा के परिणाम की उच्च स्तरीय जांच कराने पर जोर दिया है। पार्टी के केंद्रीय महासचिव राजेंद्र मेहता ने कहा है कि झारखंडी छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ का सिलसिला बंद हो। बारह सालों के बाद मैट्रिक के परीक्षा परिणाम में भारी गिरावट ने कई सवाल खड़े कर दिये हैं। मानव संसाधन विकास विभाग तथा जैक इन परिणामों पर श्वेत पत्र जारी करे। यह जानकारी मिल रही है कि कॉपियों का मूल्यांकन 26 मई तक होता रहा। तब चार ही दिन में रिजल्ट कैसे जारी कर दिये गये। मैट्रिक की परीक्षा में लगभग 52 फीसदी छात्र फेल कर गये हैं। भाषा को लेकर किये गये प्रावधान की अनदेखी कर बड़ी संख्या में छात्रों को अनुतीर्ण किया गया है। इससे बड़ी संख्या में गांवों के बच्चे हताश हैं। इंटर साइंस में 52 फीसदी और कॉमर्स में 60 फीसदी छात्रों का पास होना शैक्षणिक और परीक्षा की व्यवस्था में नाकामियां हैं। सीबीएसइ की तुलना में झारखंड की इन परीक्षाओं के परिणाम में लगभग 26 से 27 प्रतिशत का गिरावट होना चिंता का विषय है। हाईस्कूलों में शिक्षकों की भारी कमी और विभाग में खींचतान का असर छात्रों की पढ़ाई पर पड़ रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Government Examine Matric and Inter Exam Results