DA Image
23 जनवरी, 2021|11:05|IST

अगली स्टोरी

पलाश मार्ट में मिल रहीं हैं ताजी मछलियां

default image

खूंटी। संवाददाता

खूंटी जिले में लगभग 4000 से ज्यादा निजी और सरकारी तालाबों में मत्स्य पालन किया गया है। जेएसएलपीएस के द्वारा भी मतस्य पालन सखी मंडलों के माध्यम से कराने का काम किया गया है। इस वर्ष जिले में लगभग चार हजार मैट्रिक टन मछली का उत्पादन होने की संभावना जिला मतस्य पदाधिकारी अलका पन्ना जतातीं हैं। वे कहती हैं कि वैसे तो अधिकांश मछलियां स्थानीय बाजारों में बिक जाती हैं। लेकिन जो मत्स्य पालक अपनी मछलियां बेचना चाहते हैं, वे खूंटी मेनरोड में जेएसएलपीएस द्वारा खोले गए पलाश मार्ट में लाकर मछलियां भेज सकते हैं। पलाश मार्ट में एक काउंटर नॉनवेज आईटमों के लिए खोला गया है। जिसमें ताजी मछलियां भी उपलब्ध रहती है। डीसी सूरज कुमार इन मछलियों को देखकर काफी प्रसन्न हुए थे। पलास मार्ट में आधे किग्रा से लेकर तीन किग्रा तक की ताजी मछलियां उपलब्ध रह रही हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Fresh fish are being found in Palash Mart