ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड रांचीएनआईए के दो गवाहों का प्रतिपरिक्षण कर सकेंगे पूर्व मंत्री राजा पीटर

एनआईए के दो गवाहों का प्रतिपरिक्षण कर सकेंगे पूर्व मंत्री राजा पीटर

पूर्व मंत्री रमेश सिंह मुंडा हत्याकांड में चल रहा ट्रायल, अदालत ने सुरक्षित रख लिया था आदेश, मिली...

एनआईए के दो गवाहों का प्रतिपरिक्षण कर सकेंगे पूर्व मंत्री राजा पीटर
हिन्दुस्तान टीम,रांचीFri, 24 May 2024 06:30 PM
ऐप पर पढ़ें

रांची, संवाददाता। पूर्व मंत्री सह तमाड़ के तत्कालीन विधायक रमेश सिंह मुंडा हत्याकांड में ट्रायल फेस कर रहे पूर्व मंत्री गोपाल सिंह पातर उर्फ राजा पीटर के वकील एनआईए के दो गवाहों का प्रति-परीक्षण कर सकेंगे। एनआईए के विशेष न्यायाधीश एमके वर्मा की अदालत ने शुक्रवार को उनकी ओर से दायर याचिका को स्वीकार कर लिया है। अदालत ने उनकी ओर से दायर याचिका पर सुनवाई पूरी होने पर 17 मई को आदेश सुरक्षित रख लिया था।
राजा पीटर की ओर से अभियोजन पक्ष के दो गवाहों के प्रति-परीक्षण कराने की मांग करते हुए बीते पांच फरवरी को याचिका दाखिल की गई थी। मामले में एनआईए की ओर से अब तक 90 गवाहों को प्रस्तुत किया जा चुका है। इनमें दो गवाहों की जिरह बचाव पक्ष करेगा, जिनमें आईओ का नाम भी शामिल है। मामले में पूर्व मंत्री गोपाल सिंह पातर, नक्सली कुंदन पाहन समेत एक दर्जन से अधिक आरोपी ट्रायल फेस कर रहे हैं। बता दें कि रमेश सिंह मुंडा की हत्या नौ जुलाई 2008 को बुंडू के स्कूल में एक कार्यक्रम के दौरान नक्सलियों ने गोली मारकर कर दी थी। एनआईए ने 28 जून 2017 को इस केस को टेक ओवर किया है। नक्सली कुंदन पाहन के बयान पर ही राजा पीटर पर शिंकजा कसा गया और उसे गिरफ्तार किया गया था। राजा पीटर छह साल से अधिक समय तक जेल काटने के बाद जमानत पर बाहर हैं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।