DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  रांची  ›  पांच स्थान पांच रिपोर्टर
रांची

पांच स्थान पांच रिपोर्टर

हिन्दुस्तान टीम,रांचीPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 07:10 PM
पांच स्थान पांच रिपोर्टर

शहर के मॉल खुले पर शॉपिंग के लिए कम लोग पहुंचे

रांची। संवाददाता

कोरोना महामारी की दूसरी लहर के कारण 56 दिनों से बंद पड़े शहर के शॉपिंग मॉल गुरुवार से खुल गए। इससे मॉल में एक बार फिर से लोगों की चहलकदमी शुरू हो गई है। हालांकि पहले दिन भीड़ ज्यादा नहीं हुई। कुछ लोगों ने खरीददारी की तो कुछ घूमने के लिए भी पहुंचे। लगभग सभी आउटलेट में ट्रालय रूम का प्रयोग बंद था। हालांकि मॉल संचालकों ने ज्यादा भीड़ इकठ्ठी नहीं होने दी। मॉल के सभी आउटलेट में स्टाफ सामानों को ठीक करने में लगे थे। अंदर के लुक को नया किया जा रहा था। सभी मॉलों में कोरोना गाइडलाइन को लेकर नियमों का पूरा पालन होता दिखा। सभी आउटलेट के बाहर सेनेटाइजर की व्यवस्था थी। सभी मॉल में प्रवेश से पहले ग्राहकों का पूरा ब्योरा लिया जा रहा था। आधे कमर्चारियों के साथ पहले दिन मॉल खुले।

न्यूक्लियस मॉल(सरकुलर रोड): जांच के बाद मिल रहा था प्रवेश

सरकुलर रोड स्थित न्यूक्लियस मॉल के बड़े ब्रांड के आउटलेट खुल गए। मॉल में प्रवेश करने से पहले ग्राहकों के बॉडी टेंपरेचर की जांच और हाथ सेनेटाइज किया जा रहा था। न्यूक्लियस मॉल की लगभग सभी दुकानें खुली हुई थीं। अधिकतर दुकानदार ग्राहकों के आने का इंतजार करते दिखे। एक-दो आउटलेट में ही एक-दो ही ग्राहक नजर आए। एक आउटलेट के सहायक प्रबंधक राजू कुमार पासवान ने बताया कि पहले दिन ग्राहकों की संख्या काफी कम रही। बुधवार को ही आउटलेट को सेनेटाइज किया गया था। यहां के सभी स्टाफ ने कोविड-19 वैक्सीन की दोनों डोज ली है।

गैलेक्सिया मॉल(रातू रोड): कोरोना गाइडलाइन की दी जा रही थी जानकारी

ग्राहकों को कोविड-19 के प्रकोप को रोकने के लिए सभी उपायों के साथ रातू रोड स्थित गैलेक्सिया मॉल में प्रवेश की अनुमति दी जा रही थी। यहां ग्राहकों की संख्या पहले दिन न के बराबर रही। सभी दुकानें खुली रहीं, लेकिन दुकानदार ग्राहकों के आने का इंतजार करते दिखे। इस मॉल में पहले की तरह लोगों की आवाजाही नहीं रही। हालांकि पहले दिन कुछ ग्राहक खरीदारी करने पहुंचे। कुछ लोग घूमने का मूड बनाकर आए थे। सरकार के आदेश पर उन्होंने खुशी जताते हुए कहा कि डेढ महीने से अधिक समय से दुकानें बंद होने के कारण बहुत नुकसान उठाना पड़ा है। उम्मीद है कि जल्द ही कारोबार रफ्तार पकड़ लेगा।

रांची सेंट्रल मॉल(मेन रोड): हर फ्लोर पर सेनेटाइजर की व्यवस्था

मेन रोड स्थित रांची सेंट्रल मॉल में कपड़े, कॉस्मेटिक्स, चश्मे आदि सभी तरह के आउटलेट गुरुवार को खुले। ऑपरेशन मैनेजर आदित्य नारायण ने बताया कि मॉल को एक दिन पहले ही सेनेटाइज करा दिया गया था। बीच-बीच में लगातार सेनेटाइज का काम किया गया। मॉल में पहले दिन ग्राहकों की कमी रही। दिनभर छिटपुट लोग खरीददारी के लिए पहुंच रहे थे। यहां के 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ मॉल खोला गया है। मॉल के स्टाफ सामानों को अरेंज करने में लगे हुए थे। आदित्य ने कहा कि मॉल बंद रहने के कारण जो परेशानी आई, उससे निपटने में थोड़ा समय लगेगा, लेकिन हमलोगों ने किसी स्टाफ को नौकरी से नहीं निकाला।

हाई स्ट्रीट मॉल (मेन रोड): एक बार में 10 ग्राहकों को मिल रहा था प्रवेश

मेन रोड स्थित हाई स्ट्रीट मॉल में भी रौनक लौट आई। शहर में सबसे अधिक लोगों की पहुंचवाले इस मॉल में पहले दिन ग्राहकों के आने का सिलसिला शुरू हुआ। हालांकि आम दिनों की अपेक्षा भीड़ कम थी। मॉल में 10 लोगों के प्रवेश होने के बाद बाहर से आनेवालों को बाहर रुककर इंतजार करने के लिए कहा जा रहा था। एक बार में 10 ही ग्राहक मॉल के अंदर होते थे। यहां फ्लोर पर काउंटर के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग के लिए निशान बनाए गए थे। ग्राहकों का सारा रिकॉर्ड रखा जा रहा था। तापमान जांच और सेनेटाइजर प्रयोग के बाद ही मॉल में प्रवेश कराया जा रहा था। स्टाफ शुभांशु ने बताया कि 50 फीसदी कमर्चारी रोटेशन में आएंगे।

स्प्रिंग सिटी मॉल (हिनू): गिने-चुने लोगों ने की खरीददारी

हिनू क्षेत्र का सबसे चर्चित स्प्रिंग सिटी मॉल में लगभग सभी आउटलेट गुरुवार को खुल गए। एक दिन पहले दो घंटे तक सभी आउटलेट में साफ-सफाई और सेनेटाइजेशन का काम हुआ। पहले दिन ग्राहकों का टोटा रहा। न तो यहां रेस्टोरेंट में ऑर्डर के लिए कतार लगी थी और न ही कपड़ों के आउटलेट में लोग पहुंच रहे थे। पहले दिन गिने-चुने लोगों ने ही खरीददारी की। मॉल में एक कपड़े के सबसे बड़े आउटलेट में महज 20 प्रतिशत स्टाफ के साथ खुला। स्टाफ पहले दिन अरेंजमेंट करते नजर आए। आउटलेट के ऑपरेशन मैनेजर ने बताया कि करीब दो महीने बाद मॉल खुला है तो अरेंजमेंट में थोड़ा समय लगेगा। फिलहाल हमलोग रोटेशन के साथ स्टाफ को बुला रहे हैं और सभी ग्राहकों का रिकॉर्ड रखा जा रहा है।

संबंधित खबरें