DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  रांची  ›  केला चैंबर के मैनेजर से पीएलएफआई के नाम पर मांगी गई पांच लाख की रंगदारी
रांची

केला चैंबर के मैनेजर से पीएलएफआई के नाम पर मांगी गई पांच लाख की रंगदारी

हिन्दुस्तान टीम,रांचीPublished By: Newswrap
Wed, 02 Jun 2021 07:00 PM
केला चैंबर के मैनेजर से पीएलएफआई के नाम पर मांगी गई पांच लाख की रंगदारी

रांची। वरीय संवाददाता

केला चैंबर के मैनेजर साहिल खान उर्फ रोमी से फोन पर पीएलएफआई के नाम पर पांच लाख रुपए की रंगदारी मांगी गई है। रंगदारी की रकम नहीं देने पर केला चैंबर को उड़ाने की धमकी भी दी गई है।

जानकारी के अनुसार मूलरूप से यूपी के बदायूं के रहने वाले साहिल खान नगड़ी थाना क्षेत्र स्थित केला चैंबर में मैनेजर के पद पर पदस्थापित हैं। इस संबंध में साहिल खान ने नगड़ी थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी है। प्राथमिकी दर्ज होने की जानकारी मिलने के बाद ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने मामले की जांच की जिम्मेवारी डीएसपी मुख्यालय टू को दी है। पुलिस की प्रारंभिक जांच में खूटी-कर्रा इलाके में सक्रिय पीएलएफआई संगठन के एरिया कमांडर राजेश गोप का नाम सामने आया है। हालांकि पुलिस अब तक उग्रवादी राजेश गोप का पता नहीं लगा पायी है। पुलिस उसकी तलाश करने में जुटी हुई है।

दो बार फोन कर मांगी थी रंगदारी

पुलिस के अनुसार साहिल खान से पीएलएफआई के नाम पर दो बार फोन कर रंगदारी की मांग की गई है। पहली बार उन्हें तीन मई को फोन किया गया। फोनकर्ता ने उन्हें पीएलएफआई के एरिया कमांडर राजेश गोप के नाम से फोन किया। कहा कि संगठन का ध्यान रखना जरूरी है। कुछ सहयोग किया जाए। इसके बाद फिर नौ मई को दोबारा उन्हें फोन किया गया। रंगदारी की रकम मांगी गई। धमकी दी गई कि अगर संगठन की बात नहीं माने तो केला चैंबर को ही उड़ा दिया जाएगा। इस धमकी के बाद मैनेजर और उनका पूरा परिवार डर गया। इसकी जानकारी मिलने के बाद पुलिस की टीम उनके घर गई और साहिल का बयान दर्ज दिया।

ग्रामीण एसपी ने किया चार टीमों का गठन

मामले को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी के निर्देश पर ग्रामीण एसपी ने चार टीमों का गठन किया है। गठित टीमों को अलग-अलग टॉस्क दिया गया है। वहीं, एक टीम लगातार नगड़ी और उसके आसपास इलाके में छापेमारी कर रही है। हालांकि अब तक उग्रवादी राजेश गोप का पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला है।

संबंधित खबरें