DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  रांची  ›  ग्रोसरी गोदाम में लूटपाट मामले में पांच गिरफ्तार
रांची

ग्रोसरी गोदाम में लूटपाट मामले में पांच गिरफ्तार

हिन्दुस्तान टीम,रांचीPublished By: Newswrap
Thu, 17 Jun 2021 09:00 PM
ग्रोसरी गोदाम में लूटपाट मामले में पांच गिरफ्तार

रांची। वरीय संवाददाता

अरगोड़ा थाना की पुलिस ने ग्रोसरी गोदाम में हथियार के बल पर चार लाख रुपए की लूट का खुलासा कर लिया है। इस वारदात को अंजाम देने वाले पांच अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार अपराधियों में संजय लोहरा, ललित उरांव, सुनील लोहरा, बलवंत सिंह और संजीव लोहरा शामिल है। संजीव अरगोड़ा थाना क्षेत्र का रहने वाला है, जबकि अन्य चारों गुमला इलाके के रहने वाले हैं।

अपराधियों के पास से पुलिस ने हथियार और लूट की रकम में से 2.76 लाख रुपये बरामद किए हैं। एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने पूरे मामले का खुलासा करते हुए बताया कि आरोपियों ने पुलिस के समक्ष अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है।

कर्मचारी ने ही रची थी लूट की साजिश:

15 जून की दोपहर अरगोड़ा इलाके के पुंदाग रोड स्थित एक ग्रोसरी गोदाम से तीन हथियारबंद अपराधियों ने गोदाम मालिक को अपने कब्जे में लेकर 4 लाख रुपये लूट लिये थे। लूट के 5 मिनट बाद ही ग्रोसरी गोदाम के मालिक ने अरगोड़ा थाना प्रभारी विनोद कुमार को फोन पर लूट की सूचना दी। जिस वक्त लूट की वारदात को अंजाम दिया गया, उस वक्त अरगोड़ा थाना प्रभारी नियमित गश्त पर थे। मामले की जानकारी मिलते ही आनन-फानन में पुलिस की टीम ने अपराधियों की तलाश शुरू कर दी।

पुलिस की पूछताछ के दौरान ग्रोसरी गोदाम का कर्मचारी संजीव लोहरा काफी परेशान दिख रहा था, जब पुलिस ने उससे कड़ाई से पूछताछ की तो लूट की पूरी कहानी सामने आ गई। दरअसल लूट की पूरी प्लानिंग ग्रोसरी गोदाम में काम करने वाले कर्मचारी संजय लोहरा ने ही रची थी। पुलिस ने लूट की वारदात के 1 घंटे के भीतर ही मामला सुलझा लिया था। सिर्फ अपराधियों की गिरफ्तारी ही बाकी थी। पूछताछ के दौरान ग्रोसरी गोदाम के कर्मचारी संजय ने बताया कि लूट की रकम में से उसे 50 हजार मिलने वाले थे। 50 हजार की लालच में ही उसने अपने साथियों के साथ मिलकर लूट की प्लानिंग की थी।

स्पेशल टीम ने किया बाकी चार को गिरफ्तार:

फरार अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए रांची के सीनियर एसपी सुरेंद्र कुमार झा ने हटिया एएसपी विनीत कुमार के नेतृत्व में एक विशेष टीम बनाई, जिसमें अरगोड़ा थाना प्रभारी विनोद के साथ एसएसपी की क्यूआरटी टीम भी शामिल थी। गिरफ्तार संजय की निशानदेही पर पुलिस ने लूट की वारदात में शामिल संजय लोहरा, ललित उरांव, सुनील लोहरा और बलवंत सिंह को 12 घंटे में ही अलग-अलग जगहों से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार अपराधियों का पुराना आपराधिक इतिहास रहा है। इससे पहले भी वे अपराधिक वारदातों में शामिल रहे हैं।

लूट में चोरी की बाइक का इस्तेमाल

लूट की प्लानिंग करने के बाद संजय लोहरा, बलवंत और ललित हथियार लेकर गोदाम में गए और कारोबारी को गोली मारने की धमकी देकर 4 लाख लूट कर फरार हो गए। वहीं, सुनील लोहरा गोदाम के बाहर खड़ा होकर रेकी कर रहा था कि कोई और गोदाम के आसपास न आए। गिरफ्तार अपराधियों ने बताया कि भागने के लिए जिस बाइक का इस्तेमाल किया गया, उसे रांची के चान्हो इलाके से चोरी किया गया था।

संबंधित खबरें