DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रांची के अपर बाजार में नकली सरसों तेल का कारोबार का पर्दाफाश

रांची में नकली सरसों तेल के कारोबार का भंडाफोड़ हुआ। एसडीओ भोर सिंह यादव के नेतृत्व में हुई छापामारी के बाद इसका खुलासा हुआ। अपर बाजार महावीर चौक स्थित राज ट्रेडर्स में एसडीओ ने गुरुवार की शाम छापा मारा। जिसमें बड़े पैमाने पर सस्ते पाम ऑयल में सिंथेटिक कलर और एसेंस मिलाकर ब्रांडेड कंपनी का सरसों तेल तैयार करने गोरखधंधा पकड़ा गया।  प्रतिष्ठान के संचालक पंकज गुप्ता को गिरफ्तार किया गया है। 
एसडीओ के निर्देश पर राज ट्रेडर्स और लेक रोड स्थित गोदाम को सील कर दिया गया है। छापेमारी में राज ट्रेडर्स से 200 से ज्यादा 15 किलो के खाली टिन, 100 से ज्यादा 15 किलो वाले सस्ते पॉम ऑयल, सिंथेटिक कलर, तेल टीन को पैक करने वाली मशीन, मिलावट करने वाली बाल्टी व छन्नी पुलिस ने जब्त किया है। इस छापामारी के बाद अपर बाजार के कारोबारियों में हड़कंप मच गया। कई दुकानें धड़ाधड़ बंद हो गईं।
ऐसे हो रहा था सरसों तेल तैयार
राज ट्रेडर्स में सस्ते पॉम ऑयल जिसकी कीमत 40 से 50 रुपए प्रति किलो है, लाया जाता है। पॉम ऑयल का कोई रंग नहीं रहता। इसमें सिंथेटिक कलर और सरसों तेल का एसेंस मिलाकर उसे बाल्टी में फेंटा जाता था। फिर उसे सरसों तेल के टिन में डालकर मशीन से पैक कर लिया जाता था। टिन में तेल पैक होते ही उसपर बड़े ब्रांड का रैपर साट दिया जाता था। एक टिन (15 किलो) का ब्रांडेड सरसों तेल तैयार करने का खर्च मात्र 550 से 600 रुपए है। जिसे मार्केट में तैयार कर 1400 से 1450 रुपए प्रति टिन बेचा जा रहा था। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: False mustard oil business in upper bazar