DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीएसटी से परेशानी को दूर करें अधिकारीः सीएम

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि अधिकारी जीएसटी लागू करने में सहयोगात्मक रवैया अपनाएं। व्यापारियों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो इसका ध्यान रखा जाए। उन्होंने रविवार को जीएसटी लागू होने के दूसरे दिन इसकी समीक्षा की। उन्होंने जीएसटी लागू होने के बाद राज्य की क्या स्थिति है, विभाग किस तरह से सुविधा मुहैया करा रहा है, इसकी विस्तार से जानकारी ली।

वाणिज्यकर सचिव केके खंडेलवाल बताया कि लोगों की सुविधा के लिए राज्यस्तरीय सातों दिन 24 घंटे सेंट्रलाइज्ड जीएसटी कॉल सेंटर 18003457020 शुरू किया गया है। जीएसटी जुड़े सवालों का जवाब दिया जा रहा है। कॉल सेंटर में निबंधन, डिजिटल हस्ताक्षर, ओटीपी,  विभिन्न वस्तुओं पर टैक्स दर,  इनवॉइस व एकाउंटिंग संबंधी जानकारी प्राप्त की जा सकती है। जीएसटी कॉल सेंटर में नौ पदाधिकारी और 40 कर्मियों को प्रतिनियुक्त किया गया है।  राज्य के हर वाणिज्यकर अंचल कार्यालय में जीएसटी सुविधा केंद्र खोले गए हैं। यहां रजिस्ट्रेशन से संबंधित सारी जानकारी उपलब्ध कराई जा रही है। यहां भी पर्याप्त संख्या में कर्मी एवं पदाधिकारी नियुक्त किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जो नए निबंधन आवेदन दायर हो रहे थे, उनमें सॉफ्टवेयर की समस्या के कारण आवेदन सबमिट नहीं हो पा रहे थे, न ही एप्लीकेशन अप्रूव हो पा रहा था। एक जुलाई की रात्रि में जीएसटीएन अपने सॉफ्टवेयर सुधार कर इसे ठीक कर लिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Dismantle of GST Officer: CM