DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाकपा माले नेताओं ने मोदी सरकार को बनाया निशाना

भाकपा माले नेताओं ने मोदी सरकार को बनाया निशाना

भाकपा माले की नई राष्ट्रीय केंद्रीय कार्यकारिणी की बैठक में मोदी पर निशाना साधा गया। भाकपा माले के नेताओं ने कहा कि देश में हुए उपचुनावों और कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजों से स्पष्ट हो गया है कि मोदी के ग्राफ में गिरावट आने लगी है। झारखंड विधान सभा के विधायक क्लब सभागार में हुई यह बैठक गुरुवार को भी जारी रहेगी।

बैठक को संबोधित करते हुए पार्टी के पुनः चुने गए राष्ट्रीय महासचिव दीपांकर ने कहा कि देश भर में किसान, युवाओं और जनता के विभिन्न तबकों की ओर से जारी आंदोलन से स्पष्ट हो गया है कि मोदी राज में कॉरपोरेट को छोड़ कर किसी को कुछ नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमत, अल्पसंख्यक, दलित, आदिवासियों, मजदूरों के मुद्दों पर भी मोदी सरकार को घेरा।

बैठक में पिछले 23 मार्च से 28 मार्च तक मानसा (पंजाब) में संपन्न पार्टी के दसवें महाधिवेशन की समीक्षा भी की गई। दूसरे दिन गुरुवार को सत्र के दौरान पार्टी के पोलित ब्यूरो और विभिन्न विभागों व जन संगठनों के प्रभारियों का गठन किया जाएगा।

बैठक में असम, त्रिपुरा, कार्बी आंगलांग, ओड़ीसा, आंध्र प्रदेश, तामिलनाडू, कर्नाटक, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार और झारखंड के केंद्रीय कमेटी सदस्यों समेत छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, केरल और महाराष्ट्र के प्रभारी भाग ले रहें हैं।

सात सदस्यीय अध्यक्ष मंडल का गठन

माले नेता जनार्दन प्रसाद ने बताया कि बैठक के संचालन के लिए पार्टी के वरिष्ठ नेता स्वदेश भट्टाचार्य की अध्यक्षता में सात सदस्यीय अध्यक्ष मंडल का गठन किया गया। जिसमें धीरेन्द्र झा ( बिहार ), भुवना ( तमिलनाडू ), वी शंकर ( कर्नाटक ), विवेक दास ( असम ) और शुभेन्दू सेन शामिल हैं ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: CPI leaders target Modi government CPI M leaders target Modi government