ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड रांचीबालश्रम गंभीर समस्या, जो कर रही है हमारे समाज के भविष्य को प्रभावित : श्रममंत्री

बालश्रम गंभीर समस्या, जो कर रही है हमारे समाज के भविष्य को प्रभावित : श्रममंत्री

बालश्रम गंभीर समस्या है, जो हमारे समाज के भविष्य को प्रभावित कर रही है। बच्चे हमारे देश के भविष्य हैं। उन्हें शिक्षा, स्वच्छंद बचपन और खेल का अधिकार...

बालश्रम गंभीर समस्या, जो कर रही है हमारे समाज के भविष्य को प्रभावित : श्रममंत्री
default image
हिन्दुस्तान टीम,रांचीThu, 13 Jun 2024 02:45 AM
ऐप पर पढ़ें

रांची, वरीय संवाददाता। बालश्रम गंभीर समस्या है, जो हमारे समाज के भविष्य को प्रभावित कर रही है। बच्चे हमारे देश के भविष्य हैं। उन्हें शिक्षा, स्वच्छंद बचपन और खेल का अधिकार मिलना चाहिए। जबकि, बालश्रम उनके इन मौलिक अधिकारों का हनन कर रही हैं। ये बातें श्रम विभाग के मंत्री सत्यानंद भोक्ता ने कही।
वे बुधवार को विश्व बालश्रम उन्मूल दिवस पर हुई हितधारकों के संवाद कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। आयोजन रांची के एक होटल में श्रम व नियोजन प्रशिक्षण विभाग, बाल कल्याण संघ व अंतरराष्ट्रीय श्रमसंगठन के संयुक्त तत्वावधान में हुआ था। मंत्री ने कहा कि बालश्रम को समाप्त करने के लिए हम सभी का सहयोग और संयुक्त प्रयास अत्यंत आवश्यक है। हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हर बच्चा सुरक्षित वातावरण में पले-बढ़े और उसे अपनी क्षमताओं को विकसित करने का पूरा अवसर मिले। श्रम नियोजन व प्रशिक्षण विभाग इस दिशा में लगातार प्रयासरत है। हमने कई नीतियां और योजनाएं लागू की हैं, जिनका उद्देश्य बालश्रम को समाप्त करना और बच्चों की शिक्षा व स्वास्थ्य सेवाओं की ओर प्रेरित करना हैं। परंतु यह कार्य केवल सरकारी प्रयासों से संभव नहीं है। इसमें समाज के हर वर्ग का सहयोग आवश्यक हैं। मंत्री ने कहा कि मुझे खुशी हैं कि इस कार्यक्रम में शिक्षा विभाग, अपराध अनुसांधन विभाग, गैर सकरारी संस्थाओं के प्रतिनिधि, बाल कल्याण समिति के पदाधिकारी, चाइल्ड चैंपियन सभी उपस्थित हैं। सभी की भागीदारी से इस लड़ाई में सफलता मिलेगी। इसी क्रम में विभागीय सचिव मुकेश कुमार ने भी अपने विचार रखे। मौके पर बीकेएस के संस्थापक संजय मिश्र ने हितधारकों के साथ मिलकर बालश्रम मुक्त राज्य बनाने के लिए मिलकर कार्ययोजना बनाने पर बल दिए।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।