अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीबीआई ने 18 अधिकारियों के खिलाफ आरोप पत्र दायर कियाः निधि खरे

कार्मिक विभाग की प्रधान सचिव निधि खरे ने कहा है कि जेपीएससी द्वारा सहायक और कनीय अभियंताओं की नियुक्ति में गड़बड़ी की जांच सीबीआई द्वारा की जा रही थी। सीबीआई ने 18 लोगों को खिलाफ आरोप पत्र विशेष न्यायाधीश के न्यायालय में दायर किया है। सीबीआई ने अपनी फाइनल रिपोर्ट सौंप दी है। उन्होंने कहा कि जेपीएससी के तत्कालीन सदस्य शांति देवी और तत्कालीन परीक्षा नियंत्रक एलिस उषा रानी के खिलाफ आरोप पत्र दायर नहीं किया गया है। खरे ने कहा कि आरोप पत्र की प्रति आवश्यक कार्रवाई के लिए संबंधित विभागों को भेज दी गई है। इन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।
खरे ने बताया कि जिन 18 लोगों पर आरोप पत्र दायर किए गए हैं, उनमें जेपीएससी के तत्कालीन अध्यक्ष दिलीप प्रसाद भी शामिल हैं। उनके अलावा जेपीएससी के तत्कालीन सदस्य गोपाल प्रसाद सिंह व राधा गोविंद सिंह नागेश, सहायक अभियंता मणि राम मुंडा व राजीव रंजन और कनीय अभियंता विक्रम दास, बसंत कुमार मंडल, अमित कुमार सिंह, चंदन कुमार, धनंजय कुमार, धनकेश्वर नायक, मनोज कुमार सिंह, संजय कुमार मुंडा, राजेंद्र मुंडा, बीरेंद्र करमारी, विनोद कुमार तिग्गा व सुजीत कुमार सिंह शामिल हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:charges filed against 18 officials: Nidhi Khare