DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीडीओ को मिली अंतरजातीय विवाह की सजा, समाज ने किया बहिष्कार!

पश्चिमी सिंहभूम के बंदगांव प्रखंड में पदस्थापित  बीडीओ  कामेश्वर बेदिया को भी अंतरजातीय विवाह के लिए समाज के प्रतिरोध का सामना करना पड़ रहा है।
आलम यह है कि समाज ने बीडीओ के इस फैसले की खिलाफत करते हुए उनके पूरे परिवार के सामाजिक बहिष्कार का निर्णय ले लिया है। यह फरमान भी सुनाया है कि सात जून को होनेवाली शादी में यदि कोई शामिल हुआ तो उसका भी सामाजिक बहिष्कार किया जाएगा। 
बेदिया विकास परिषद की बैठक ग्राम चपरी में गुरुवार को परिषद के अध्यक्ष शंकर बेदिया की अध्यक्षता में  हुई। इसमें कहा गया कि कामेश्वर बेदिया का विवाह दूसरे जाति-समाज की लड़की से हो रहा है। इसका बेदिया विकास परिषद बहिष्कार करेगा। 
बैठक में बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।
समाज के फैसले ने किया आहत : बीडीओ
बीडीओ कामेश्वर बेदिया ने कहा कि समाज के इस फैसले ने मुझे आहत किया है। एक तरफ राजनीतिक मंचों पर जाति-धर्म के बंधन को तोडने की बात कही जाती है तो वहीं दूसरी तरफ इस तरह का फैसला सुनाया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि वे अनुसूचित जनजाति से आते हैं और अनुसूचित जनजाति में ही विवाह कर रहे हैं। वह अपने समाज और बड़े-बुजुर्गों का सम्मान करते है। कुछ गलतफहमी है, उसे दूर कर लिया जाएगा। शादी तय तिथि पर ही होगी। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: BDO gets inter-caste marriage Punishment, society boycott!