DA Image
30 अक्तूबर, 2020|5:28|IST

अगली स्टोरी

21 सितंबर से नौंवी और 11वीं में हो सकेगा एडमिशन

default image

राज्य के हाई और प्लस टू स्कूलों में नौवीं और 11वीं में छात्र छात्राओं का नामांकन तेजी से हो सकेगा। 21 सितंबर से मैट्रिक और इंटरमीडिएट के छात्र छात्राओं के परामर्श के लिए स्कूल खुलेंगे। इसके साथ ही, नौवीं और 11वीं में छात्र-छात्राओं का नामांकन भी हो सकेगा। इसके लिए आपदा प्रबंधन विभाग से अनुमति मांगी गई है। विभाग की मंजूरी मिलने के बाद छात्र छात्राओं को परामर्श देने के साथ-साथ नामांकन की भी प्रक्रिया चलेगी। अब तक 50 फ़ीसदी ही नामांकन हो सका है। कोरोना महामारी की वजह से स्कूल बंद है। पिछले दो महीने से रोटेशन पर शिक्षक स्कूलों में आ रहे थे। बच्चों और उनके अभिभावकों के आने पर उनका नामांकन स्कूलों में लिया जा रहा था। वैसे स्कूल जहां अगली कक्षा है वहां छात्र-छात्राएं प्रमोट हो गए हैं, वही पहली, छठी, नौवीं और 11वीं में नामांकन प्रभावित हुआ है। आठवीं बोर्ड में 4.61 लाख छात्र छात्रा सफल हुए हैं, लेकिन अब तक ढाई लाख से कम छात्र-छात्राओं का ही नामांकन हो सका है। यही हाल 11वीं का भी है। मैट्रिक में 2,88,928 परीक्षार्थी सफल हुए, लेकिन 11वीं में अब तक एक लाख से भी कम बच्चों का ही नामांकन हो सका है। इन दोनों क्लास में ज्यादा से ज्यादा छात्र-छात्राओं का नामांकन हो सके इसके लिए स्पेशल ड्राइव चलाने की तैयारी की जा रही है। इस ड्राइव में 21 सितंबर से नामांकन के लिए भी अवसर दिए जाएंगे। छात्र छात्रा और अभिभावक सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए नामांकन के लिए स्कूल आ सकेंगे। इसके लिए अलग से क्लासरूम में एडमिशन की व्यवस्था की जाएगी। एक कमरे में अधिकतम 15 बच्चों और अभिभावकों को बैठाया जाएगा। नामांकन लेने के साथ नौवीं की छात्राओं को निशुल्क किताबें दी जाएगी, वहीं छात्रों को फिलहाल पाठ्यपुस्तक खरीदना होगा। नामांकन प्रक्रिया चलाने के समय कोविड-19 को लेकर तय किए गए अन्य मानकों का भी पालन किया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Admission will be available from 9th September to 9th and 11th