ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड रांचीतिलता ओवरब्रीज के नीचे सड़क चौडीकरण के लिए खोदे गए गड्ढे से हो रही दुर्घटना

तिलता ओवरब्रीज के नीचे सड़क चौडीकरण के लिए खोदे गए गड्ढे से हो रही दुर्घटना

तिलता ओवरब्रीज के नीचे सडक चौडीकरण के लिए खोदे गए गडढे से हो रही दुर्घटना विभाग जिसके लिए सडक के एक ओर लगभग पांच फीट का गडढा खोद दिया है। स्थानीय...

तिलता ओवरब्रीज के नीचे सड़क चौडीकरण के लिए खोदे गए गड्ढे से हो रही दुर्घटना
हिन्दुस्तान टीम,रांचीTue, 18 Jun 2024 01:45 AM
ऐप पर पढ़ें

रातू प्रतिनिधि। एनएच 39 तिलता ओवरब्रीज के नीचे सडक चौडीकरण का कार्य चल रहा है। पथ निर्माण विभाग जिसके लिए सडक के एक ओर लगभग पांच फीट का गडढा खोद दिया है। स्थानीय दुकानदारो ने गडढा खोदने का विरोध किया तो विभाग के लोगो ने कहा कि एक दिन के अंदर गडढा भर दिया जाएगा।लेकिन एक सप्ताह होने का आ गए आज तक गडढा नही भरा गया।गडढा नही भरने से कई लोग उस गडढे में गिर चुके है जिसके कारण उन्हे चोटे भी आई है। वही गडढे के कारण जाम की स्थिति बन रही है वह अलग। स्थानीय दुकानदारो ने कहा कि गडढा के कारण हम लोगो की दुकानदारी में भी प्रभाव पड रहा है।कस्टमर दुकान के पास जगह नही होने के कारण आ नही रहे है। किसी को भी गडढा में गिरने का डर रहता है। स्थानीय दुकानदार मुकेश कुमार, शंकर प्रसाद,शंभु प्रसाद,मुकेश अग्रवाल,प्रदीप उरांव ने पथ निर्माण विभाग से गडढा शीघ्र भरने की बात कही है।उन्होने कहा कि अगर 24 घंटे में गडढा नही भरा गया तो जनहित में हमलोग अपना पैसा लगाकर स्वयं गडढा भर देगें।जिसकी जिम्मेवारी पथ निर्माण विभाग की होगी।

तिलता ओवरब्रीज के नीचे भी बडा गडढा - रिंग रोड तिलता ओवरब्रीज के नीचे भी सडक के बीचोबीच बडा गडढा हो गया है जिसके कारण प्रतिदिन छोटे से लेकर बडे वाहन फंसते रहते है। पानी भर जाने से कुछ लोग गिर भी रहे है। जिसे विभाग द्वारा अनदेखा किया जा रहा है।जहां सडक अच्छी है वहां खुदाई कर गडढा कर दिया गया है। जहां खराब है उसे पर कोई काम नही। स्थानीय लोगो ने कहा कि यह सिर्फ सरकार का पैसा लुटने की योजना है।अच्छी सडक की खुदाई कर दो फिर उसे भर दो पैसा तो मिलना ही है।वही सडक की दुसरी ओर बडा गडढा होने के बावजुद उसे ठीक नही किया जा रहा है।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।