DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पहाड़ी पर पहुंचेंगे 70 हजार शिवभक्त

पहाड़ी पर पहुंचेंगे 70 हजार शिवभक्त

1 / 4सावन माह की पहली सोमवारी की तैयारी पूरी हो गयी है। सोमवारी पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहाड़ी मंदिर समेत शहर के अन्य शिवालयों में जलाभिषेक करेंगे। पहाड़ी मंदिर में लगभग 70 हजार शिवभक्तों के पहुंचने की...

पहाड़ी पर पहुंचेंगे 70 हजार शिवभक्त

2 / 4सावन माह की पहली सोमवारी की तैयारी पूरी हो गयी है। सोमवारी पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहाड़ी मंदिर समेत शहर के अन्य शिवालयों में जलाभिषेक करेंगे। पहाड़ी मंदिर में लगभग 70 हजार शिवभक्तों के पहुंचने की...

पहाड़ी पर पहुंचेंगे 70 हजार शिवभक्त

3 / 4सावन माह की पहली सोमवारी की तैयारी पूरी हो गयी है। सोमवारी पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहाड़ी मंदिर समेत शहर के अन्य शिवालयों में जलाभिषेक करेंगे। पहाड़ी मंदिर में लगभग 70 हजार शिवभक्तों के पहुंचने की...

पहाड़ी पर पहुंचेंगे 70 हजार शिवभक्त

4 / 4सावन माह की पहली सोमवारी की तैयारी पूरी हो गयी है। सोमवारी पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहाड़ी मंदिर समेत शहर के अन्य शिवालयों में जलाभिषेक करेंगे। पहाड़ी मंदिर में लगभग 70 हजार शिवभक्तों के पहुंचने की...

PreviousNext

सावन माह की पहली सोमवारी की तैयारी पूरी हो गयी है। सोमवारी पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहाड़ी मंदिर समेत शहर के अन्य शिवालयों में जलाभिषेक करेंगे। पहाड़ी मंदिर में लगभग 70 हजार शिवभक्तों के पहुंचने की संभावना है। राजधानी में सावन का भकि्तमय माहौल रविवार की देर शाम से ही बनने लगा था। केसरिया परिधान में बच्चों-बुजुर्गों और महिलाओं की टोलियां बोलबम के जयकारे लगाते हुए गली-मुहल्लों से निकलीं। इनमें से कई नामकुम और कुछ खूंटी के आम्रेश्वरधाम के लिए निकले। चौक-चौराहों पर बज रहे भजनों से माहौल शिवमय बन गया। झूमते-गाते श्रद्धालु शिवलिंग का जलाभिषेक करने के लिए जल लेने नामकुम के स्वर्णरेखा नदी तट पर देर रात पहुंचे। नदी में स्नान एवं पूजा के बाद भक्तों ने मिट्टी के कलश और कई ने साथ लाए गए कांवर से जल उठाया। भोर में सभी पहाड़ी मंदिर पहुंचे। यहां सभी सरकारी पूजा के बाद मुख्य द्वार के खुलने की प्रतीक्षा कर रहे थे। जयकारे से पहाड़ी मंदिर के आसपास भक्ति का साम्राज्य कायम था। इससे पूर्व स्वर्णरेखा नदी से जल लेने के लिए घरों से निकले श्रद्धालुओं का विभिन्न स्वयंसेवी एवं धार्मिक संस्था की ओर से स्वागत किया गया। शिविर में उनके लिए चाय एवं पानी के अलावा खीर की भी व्यवस्था की गयी थी।

श्रद्धालुओं के लिए पहाड़ी मंदिर तैयार

सबसे ज्यादा श्रद्धालु पहाड़ी मंदिर पहुंचेंगे। रांची पहाड़ी मंदिर विकास समिति की ओर से श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिए तैयारी कर ली गई है। मंदिर के मुख्य द्वार से शिखर तक जाने वाले मार्ग पर सीढ़ियों पर जहां फिसलन है, वहां विशेष तौर पर निगमकर्मियों से सफाई करायी गयी है। शीर्ष मंदिर से फ्लैग पोस्ट के रास्ते सीढ़ियों की मरम्मत एवं मिट्टी गिरे स्थान पर दीवार खड़ी की गई है। रोशनी के लिए मंदिर परिसर में लगे एलइडी को दुरुस्त कराया गया है। पूजा के लिए पानी की पर्याप्त व्यवस्था नल एवं टंकियों के माध्यम से की गयी है। मेला के दौरान भीड़ नियंत्रण एवं विधि-व्यवस्था बहाल रखने के लिए कंट्रोल रूम को चालू किया गया है। सुरक्षाकर्मियों को ड्यूटी पर लगाया गया है। सेवादार भी भक्तों को सहयोग करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:70 thousand Shiva devotees will reach the hill