DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  रांची  ›  50 फीसदी किसानों का ऋण हुआ माफ, जिन किसानों का केवाईसी लंबित है उन्हें अभी तक नहीं मिला लाभ
रांची

50 फीसदी किसानों का ऋण हुआ माफ, जिन किसानों का केवाईसी लंबित है उन्हें अभी तक नहीं मिला लाभ

हिन्दुस्तान टीम,रांचीPublished By: Newswrap
Sat, 19 Jun 2021 03:40 AM
50 फीसदी किसानों का ऋण हुआ माफ, जिन किसानों का केवाईसी लंबित है उन्हें अभी तक नहीं मिला लाभ

रांची। प्रमुख संवाददाता

रांची जिले के 50 फीसदी किसानों को ऋण माफी योजना का लाभ मिल चुका है। सभी किसानों के खाते में राशि हस्तांतरित कर दी गयी है। कुछ किसानों का केवाईसी लंबित रहने के कारण अभी तक योजना का लाभ नहीं मिला है। शुक्रवार को ऋण माफी योजना की समीक्षा के दौरान उपायुक्त ने यह दावा किया। उपायुक्त ने सभी बैंक के प्रतिनिधियों को शेष लाभुकों का ई-केवाईसी जल्द कर योजना का लाभ देने का निर्देश दिया।

योजना के अंतर्गत पोर्टल पर डेटा अपलोड की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने तेजी से कार्य करने का निर्देश दिया। कई बैंकों द्वारा धीमी गति से कार्य करने पर उपायुक्त द्वारा नाराजगी भी जताई गई। पीएम किसान योजना के लाभुकों को केसीसी दिए जाने की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने सभी बैंक के प्रतिनिधियों से पर्सनल इंटरेस्ट लेकर काम करने को कहा। उन्होंने कहा कि केसीसी के लिए जो भी आवेदन आए उसका निष्पादन करें। इस बात का खास ख्याल रखें कि किसानों को ज्यादा परेशानी न हो।

31 मार्च 2020 तक ऋण लेनेवाले किसान माफी के दायरे में

झारखंड कृषि ऋण माफी योजना के अंतर्गत सभी रैयत और गैर रैयत के 50 हजार रुपये तक के कृषि ऋण माफ होंगे, चाहे वह किसी भी बैंक से लिया गया हो। 31 मार्च 2020 तक ऋण लेनेवाले किसान ही इसके दायरे में आएंगे। एक परिवार से एक ही व्यक्ति को इसका लाभ मिल सकता है। इसके एवज में आवेदन देनेवाले किसानों से एक रुपये सेवा शुल्क के तौर पर लिया जाएगा। पैसा सीधे बैंक खाते में जाएगा। योजना का लाभ पाने के लिए राशन कार्ड भी अनिवार्य होगा।

संबंधित खबरें