ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड रामगढ़लपंगा पंचायत के ग्रामीणों ने रेलवे के खिलाफ किया प्रदर्शन

लपंगा पंचायत के ग्रामीणों ने रेलवे के खिलाफ किया प्रदर्शन

भदानीनगर के लपंगा बस्ती में बुधवार को विभिन्न गांव व टोला के सैकड़ों महिला-पुरूष व बच्चों ने रेलवे के खिलाफ प्रदर्शन किया। आंदोलित ग्रामीणों का कहना...

लपंगा पंचायत के ग्रामीणों ने रेलवे के खिलाफ किया प्रदर्शन
हिन्दुस्तान टीम,रामगढ़Thu, 07 Mar 2024 12:00 AM
ऐप पर पढ़ें

भुरकुंडा, निज प्रतिनिधि
भदानीनगर के लपंगा बस्ती में बुधवार को विभिन्न गांव व टोला के सैकड़ों महिला-पुरूष व बच्चों ने रेलवे के खिलाफ प्रदर्शन किया। आंदोलित ग्रामीणों का कहना था कि रेलवे ने रास्ता बंद कर उनके साथ घोर अन्याय किया है। यह सर्वे का रास्ता था। इसलिए वे नहीं, रेलवे उनकी जमीन पर आई है। ऐसे में बगैर विचार किए रास्ते को पूरी तरह से बंद करना उचित नहीं था। वे करीब 40 दिन से वे रास्ते का संकट झेल रहे हैं। रेलवे ने उन्हें कुएं का मेढ़क बना दिया है। रेलवे ट्रैक पर हादसा 31 जनवरी को हुआ था, जबकि इससे पहले से वे प्लाईओवर या फिर अंडर पास बनाने की मांग कर रहे हैं। लेकिन आवागमन का विकल्प देने की बजाय रेलवे ने तानाशाही का परिचय देते हुए रास्ता ही बंद कर दिया। जिससे दर्जन भर गांव के लोग सीधे तौर पर प्रभावित हुए हैं। प्रदर्शन करने वालों में लपंगा बस्ती, सांकी, पाली, कोड़ी, जुमरा, निम्मी आदि गांव के लोग शामिल थे। इसमें इमरान अंसारी, सुनैना देवी, शमशेर आलम, जावेद अख्तर, नसीम अंसारी, डिस्को, कैलास महतो, कमरूल अंसारी, लखन बेदिया, रामलाल बेदिया, मधु बेदिया, शंकर बेदिया, कलीम अंसारी, विमल देवी, शीला देवी, अफसाना परवीन, इसरत जहां, बासमती देवी, बबीता कुमारी, अंजू देवी, बबीता देवी, रियाज अहमद, रब्बानी, सिकंदर, बालेश्वर बेदिया, रोपा देवी आदि शामिल थीं।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।