DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीवीयूएनएल सुपर पावर प्लांट के ऑनलाईन शिलान्यास का गवाह बने पतरातू के हजारों लोग

पीवीयूएनएल सुपर पावर प्लांट के ऑनलाईन शिलान्यास का गवाह बने पतरातू के हजारों लोग

1 / 3झारखंड सरकार और एनटीपीसी का संयुक्त उपक्रम पीवीयूएनएल का सुपर पावर प्लांट का शिलान्यास देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को धनबाद के सिंदरी से ऑनलाईन किया। इस ऑनलाईन शिलान्यास कार्यक्रम का...

पीवीयूएनएल सुपर पावर प्लांट के ऑनलाईन शिलान्यास का गवाह बने पतरातू के हजारों लोग

2 / 3झारखंड सरकार और एनटीपीसी का संयुक्त उपक्रम पीवीयूएनएल का सुपर पावर प्लांट का शिलान्यास देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को धनबाद के सिंदरी से ऑनलाईन किया। इस ऑनलाईन शिलान्यास कार्यक्रम का...

पीवीयूएनएल सुपर पावर प्लांट के ऑनलाईन शिलान्यास का गवाह बने पतरातू के हजारों लोग

3 / 3झारखंड सरकार और एनटीपीसी का संयुक्त उपक्रम पीवीयूएनएल का सुपर पावर प्लांट का शिलान्यास देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को धनबाद के सिंदरी से ऑनलाईन किया। इस ऑनलाईन शिलान्यास कार्यक्रम का...

PreviousNext

झारखंड सरकार और एनटीपीसी का संयुक्त उपक्रम पीवीयूएनएल का सुपर पावर प्लांट का शिलान्यास देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को धनबाद के सिंदरी से ऑनलाईन किया। इस ऑनलाईन शिलान्यास कार्यक्रम का पतरातू के हजारों लोग गवाह बने। वहीं इस ऐतिहासिक शिलान्यास कार्यक्रम का सीधा प्रसारण पीवीयूएनएल फुटबॉल ग्राउंड में एक भव्य कार्यक्रम आयोजित कर दिखाया गया।

शिलान्यास कार्यक्रम का यह पल पतरातू के हजारों लोगों के लिए ऐतिहासिक क्षण रहा। क्योंकि चार हजार मेगावाट के इस सुपर पावर प्लांट के शिलान्यास कार्यक्रम के सीधा प्रसारण में 20सूत्री के प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश प्रसाद, हजारीबाग विधायक मनीष जायसवाल, पूर्व विधायक लोकनाथ महतो, जेयूवीएनएल के एमडी राहुल पुरवार, पीवीयूएनएल के डायरेक्टर सह एनटीपीसी के एक्जक्यूटिव डायरेक्टर इंजीनियरिंग गोपाल कृष्णन वेन्यू, जीएम इंजीनियरिंग समीर भौमिक, डीडीसी सुनील कुमार, एसडीएम अंनत कुमार, एलआरडीसी, डीआरडीए के निदेशक ज्योत्सना सिंह आदि जिला और प्रखंड के अधिकारी शामिल हुए। वहीं कार्यक्रम में पीवीयूएनएल की ओर से कई तरह की सुविधाएं बहाल की गई थी। जिसमें चिकित्सा व्यवस्था, खाने-पीने की व्यवस्था आदि की गई थी। इसके अलावा कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए पुलिस और सीआईएसएफ के जवानों की तैनाती की गई थी।

पीवीयूएनएल फुटबॉल ग्राउंड में आयोजित ऑनलाईन शिलान्यास कार्यक्रम के सीधा प्रसारण में उपस्थित लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम रघुवर दास जी के भाषण के समय उपस्थित महिला और पुरुषों ने टकटकी बांधे सुनते रहे। वहीं जब पीएम श्री मोदी ने कहा कि हवाई चप्पल पहनने वाला भी हवाई जहाज में सफर करेगा। तो लोगों ने जमकर तालियां बजायी। जबकि पीएम की दिए गए व्यतव्य की झारखंड आर्थिक ताकत का राज्य बनेगा। झारखंड को विकास कर के लौटाउंगा। हर किसी की कल्याण के लिए हम आगे बढ़ते जा रहे हैं। सुनकर तालियों की गड़गड़ाहट गूंज उठी। वहीं सीएम के भाषण की झारखंड देश का एक समृद्ध राज्य बनेगा। साथ ही अटल जी के सपनों को पूरा किया जाएगा। यह सुनकर लोगों ने उनके भाषण को खूब सराहा।

पीवीयूएनएल का सुपर पावर प्लांट का पहला यूनिट बनाने में लगभग 48 माह का समय लगेगा। इसके बाद छह-छह माह के अंतराल में की तीन इकाईयां स्थापित की जाएगी। यानि पावर प्लांट का प्रथम चरण में 2400 मेगावॉट की तीन यूनिट निर्मित होंगे। वहीं इस पावर प्लांट के निर्माण से निर्बाध होकर बिजली मुहैया के लिए इंफास्ट्रक्चर को मजबूत किया जा रहा है। वहीं पावर प्लांट निर्माण में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रुप से हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा। दूसरी ओर पीवीयूएनएल के जीएम इंजीनियरिंग समीर भौमिक ने कहा कि पहला यूनिट 2022 तक निर्माण कर बिजली आपूर्ति शुरु कर दी जाएगी। वहीं कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे विधायक मनीष जायसवाल ने कहा कि इस पावर प्लांट के बनने से राज्य में बेहतर बिजली व्यवस्था होगी।

सीट में बैठने को लेकर कांग्रेसियों ने किया किचकिच

पीवीयूएनएल पावर प्लांट के ऑनलाईन शिलान्यास कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे कांग्रेसियों को बैठने के लिए सीट नहीं मिलने से नेताओं ने किचकिच किया। बाद में प्रबंधन की ओर से कुछ लोगों को सीट पर बैठाया गया। तो कुछ लोग खड़े रहे। कार्यक्रम में प्रबंधन की ओर से जितना सीट लगाया गया था। उसमें लगभग सभी सीटों पर लोग बैठ गए थे। यहां तक कि पत्रकार दीर्घा में भी नेताओं ने कब्जा कर लिया था। दूसरी ओर सीट की कमी के कारण कुछ पत्रकारों को उनके सीट से उठा कर दूसरे लोगों को बैठा दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Thousands of people from Patratu, who witnessed the online foundation of PVUNL super power plant