ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड रामगढ़संत रैयदास के बताए हुए मार्ग पर चलने की जरुरत : तिवारी

संत रैयदास के बताए हुए मार्ग पर चलने की जरुरत : तिवारी

संत शिरोमणी रविदास जयंति के अवसर पर मुख्य अतिथि आजसू के केंद्रीय महासचिव सह मांडू विधानसभा प्रभारी तिवारी महतो ने...

संत रैयदास के बताए हुए मार्ग पर चलने की जरुरत : तिवारी
हिन्दुस्तान टीम,रामगढ़Sun, 25 Feb 2024 12:00 AM
ऐप पर पढ़ें

वेस्ट बोकारो, निज प्रतिनिधि। भारतीय संस्कृति का निर्माण विभिन्न सांस्कृतिक और धार्मिक विचार धाराओं के संगम से हुआ है। इसी धाराओं में चार्वाक और बुद्ध के बाद गुरु रैयदास भारतीय इतिहास मंडल के आभायुक्त महापुरुष थे। उक्त बातें लइयो में श्री संत शिरोमणी रविदास जयंति के अवसर पर मुख्य अतिथि आजसू के केंद्रीय महासचिव सह मांडू विधानसभा प्रभारी तिवारी महतो ने कही। तिवारी महतो ने कहा कि हमें संत रैयदास के बताए हुए मार्ग पर चलने की जरुरत है। इसके पूर्व कार्यक्रम का शुभारंभ 251 कलश यात्रा के साथ किया गया। रविदास समाज के सैकड़ों लोगों ने कलश के साथ चुटूवा नदी पहुंचे।
जहां से जल भर कर नगर भ्रमण करते हुए कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे। तत्पश्चात पुजारी कमलनाथ रविदास ने विधिवत रुप से पूजा-अर्चना कराया। इस अवसर पर महाप्रसाद का वितरण भी किया गया। कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि के रुप में जिला उपाध्यक्ष आजसू रामगढ़ सह लईयो उत्तरी मुखिया मदन महतो, मुखिया गीता देवी, समिति के संरक्षक सह मुखिया इचकडीह पंचायत रमेश राम, पंसस द्रोपदी देवी, शफिक अंसारी जिला सचिव जदयू आदि लोग मुख्य रुप से उपस्थित थे। कार्यक्रम को सफल बनाने में अध्यक्ष जीवाधन रविदास, सचिव सुरेश राम, कोषाध्यक्ष कमलनाथ रविदास, विजय राम, बालेश्वर राम, बिजली राम, प्रयाग राम, नोमिलाल राम, किशुन राम, बासुदेव राम, बिशुन राम, बिनोद राम, सुरेंद्र राम, राजेन्द्र, सूरज, संतोष, राजू आदि लोगों का सराहनीय योगदान रहा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें