ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड रामगढ़मुखिया संघ ने जन प्रतिनिधियों के अधिकार के हनन के विरोध में प्रखंड परिसर में दिया धरना

मुखिया संघ ने जन प्रतिनिधियों के अधिकार के हनन के विरोध में प्रखंड परिसर में दिया धरना

गोला प्रखंड कार्यालय परिसर में बुधवार को मुखिया संघ ने पंचायती राज व्यवस्था में जनप्रतिनिधियों के अधिकार हनन के विरोध में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन...

मुखिया संघ ने जन प्रतिनिधियों के अधिकार के हनन के विरोध में प्रखंड परिसर में दिया धरना
हिन्दुस्तान टीम,रामगढ़Thu, 13 Jun 2024 12:00 AM
ऐप पर पढ़ें

गोला, निज प्रतिनिधि
गोला प्रखंड कार्यालय परिसर में बुधवार को मुखिया संघ ने पंचायती राज व्यवस्था में जनप्रतिनिधियों के अधिकार हनन के विरोध में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। धरना में गोला प्रखंड के 21 पंचायतों के मुखिया सहित दुलमी व चितरपुर प्रखंड क्षेत्र के मुखियाओं ने भी भाग लिया। इस दौरान मुखियाओं ने कहा कि पंचायती राज व्यवस्था में मुखिया को ग्राम सभा करने की एक शक्ति मिली है। इस अधितकार को जिला के अधिकारी दरकिनार कर अपनी मर्जी से काम कर रहे हैं। जिला परियोजना पदाधिकारी ने विभिन्न पंचायतों में संचालित 79 योजनाओं को रद्द कर दिया गया है। जिससे स्पष्ट होता है कि अधिकारियों के आगे ग्राम सभा कोई मायने नहीं रखता है। मुखिया संघ के अध्यक्ष प्रभाष प्रकाश सिंह ने कहा कि केंद्र व झारखंड सरकार की महत्वाकांक्षी मनरेगा योजना में बेवजह दखल अंदाजी कर जिले के अधिकारी मनरेगा मजदूरों के साथ नाइंसाफी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ग्राम सभा के माध्यम से अति जरूरतमंद लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से योजनाएं दी गई थी। ग्राम सभा में पारित कर लाभुकों का चयन किया गया था। जिसे जिला परियोजना पदाधिकारी ने रद्द कर दिया। जिससे लाभुक व जन प्रतिनिधि अपने आप को ठगा महसूस कर रहे हैं। आखिर में मुखिया संघ ने मनरेगा आयुक्त के नाम बीडीओ संजय सांडिल्य को 5 सूत्री मांग पत्र सौंपा है। जिसमें पंचायती राज व्यवस्था में ग्राम सभा की शक्ति को बनाए रखने, रद्द योजनाओं को चालू करने, मनरेगा मजदूरों को बकाया मजदूरी का तत्काल भुगतान करने, मनरेगा मजदूरों का समय पर मजदूरी भुगतान करने, मनरेगा योजना में सामग्री राशि का भुगतान करने के लिए आवंटन उपलब्ध कराने व अन्य मांगे शामिल हैं। मौके पर मुखिया नुरुल्लाह अंसारी, सुनीता देवी, रुपा देवी, कांति देवी, नीता देवी, किरण देवी, बुलटी देवी, जावेद अंसारी, कुलदीप साव, राजकिशोर कोटवार व अन्य उपस्थित थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
Advertisement