DA Image
29 नवंबर, 2020|6:34|IST

अगली स्टोरी

मंदिरों की मिट्टी व नदियों का पवित्र जल अयोध्या के लिए रवाना

default image

विश्व हिन्दू परिषद झारखंड प्रदेश के नेतृत्व में रामगढ़ जिले से सैकडों देव स्थलों एवं पवित्र नदियों के जल को कलशों में जमा कर रविवार को रांची के लिए रवाना किया गया। राँची से यह जल और मिट्टी को अयोध्या के लिए रवाना किया जाएगा। अयोध्या में 5 अगस्त को होने वाले श्री रामजन्मभूमि भूमिपूजन समारोह में पूरे देश से एकत्रित किए गए मिट्टी एवं जल को निर्माण स्थल में डाला जाएगा। अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि पूजन करेंगे। अयोध्या जाने के क्रम में विश्व हिन्दू परिषद के झारखंड-बिहार क्षेत्र के संगठन मंत्री केशव राजू ने बताया की 5 अगस्त हमारे हिन्दू समाज के लिए गौरव का दिन है। हजारों सालों से जो संघर्ष हिन्दूओं की ओर से किया जा रहा था, उसमें अब विराम लगने वाला है। अब भव्य राम मंदिर बनेगा। इनके साथ प्रदेश संगठन मंत्री देवी सिंह, प्रदेश मंत्री डाँ वीरेंद्र साहु, प्रदेश प्रचार प्रसार प्रमुख संजय कुमार, विभाग प्रचार प्रमुख अमर प्रसाद रवाना हुए। राँची से अयोध्या के जाने के क्रम में रामगढ़ पटेल चौक पर सामाजिक कार्यकर्ता राजेश ठाकुर ने स्वागत किया। राजेश ठाकुर ने बताया की बहुत सौभाग्य की बात है की झारखंड राज्य के सभी पवित्र मंदिरों की मिट्टी और जल श्री राम मंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम में लगाया जायेगा। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में भूमिपूजन होगा। उन्होंने कहा कि राम मंदिर निर्माण का सपना सकार हो रहा है। 5 अगस्त हमारे लिए ऐतिहासिक दिन है। हम सब हिन्दू समाज अपने अपने घरों में दीया जलाएंगे और भगवान श्री राम का अनुशरण करेंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:The holy water of the soil of the temples and the rivers left for Ayodhya