DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  रामगढ़  ›  गोला में संथाली आदिवासियों ने प्रधानमंत्री का पुतला फूंका
रामगढ़

गोला में संथाली आदिवासियों ने प्रधानमंत्री का पुतला फूंका

हिन्दुस्तान टीम,रामगढ़Published By: Newswrap
Mon, 14 Jun 2021 09:50 PM
गोला में संथाली आदिवासियों ने प्रधानमंत्री का पुतला फूंका

गोला।निज प्रतिनिधि

गोला के सुदूरवर्ती मीडियाजारा गांव में सोमवार को आदिवासी सेंगल अभियान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया। इस दौरान प्रधानमंत्री के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कहा गया कि अधिकतर आदिवासी प्रकृति पूजक हैं और हमारा धर्म हिंदू धर्म से अलग है। आदिवासी पेड़, पौधे, नदी, नाला और प्रकृति की पूजा करते हैं। सरना धर्म को मानने वाले लोग बनावटी मूर्ति की पूजा नहीं करते हैं। आदिवासी सेंगल अभियान की ओर से असम, बिहार, पश्चिम बंगाल, उड़ीसा और झारखंड में सरना धर्म कॉलम कोड लागू करने की मांग को लेकर कई बार राष्ट्रव्यापी आन्दोलन किया गया। लेकिन केंद्र सरकार आदिवासियों को हिंदू बनाने की नियत से सरना धर्म कॉलम कोड को लागू नहीं कर रही है। मनीश्याम टुड्डू ने कहा कि झारखंड और पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्रियों ने केंद्र सरकार को इस विषय में चिट्ठी भेज चुका है। फिर भी यह सरकार चुप है। प्रखंड अध्यक्ष विजय टुड्डू ने कहा कि हम किसी भी धर्म के लोगों लोगों को ठेस पहुंचाना नहीं चाहते हैं। केंद्र सरकार अनुच्छेद 25 के तहत जिस तरह हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, जैन और बौद्ध धर्म के लोगों को उनके धर्म कॉलम कोड दिए गए हैं। उसी तरह सरना धर्म कॉलम कोड को भी लागू किया जाए। पुतला दहन कार्यक्रम में बाबूलाल टुड्डू, अनीता टुड्डू, संगीता टुड्डू, फुलकुमारी टुड्डू, शोहन्ती टुड्डू, निर्मल मांझी, शांति देवी, मुन्ना टुड्डू, मिना टुड्डू, रोशनी मरांडी, बलासरी टुड्डू, मांगोती टुड्डू, कुंती टुड्डूव अन्य मौजूद थे।

संबंधित खबरें