DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  रामगढ़  ›  गोला में सर्पदंश से एक की मौत, गांव में पसरा मातम

रामगढ़गोला में सर्पदंश से एक की मौत, गांव में पसरा मातम

हिन्दुस्तान टीम,रामगढ़Published By: Newswrap
Fri, 11 Jun 2021 10:40 PM
गोला में सर्पदंश से एक की मौत, गांव में पसरा मातम

गोला।निज प्रतिनिधि

गोला थाना क्षेत्र के हुप्पु तोयर गांव निवासी प्रकाश करमाली 35 वर्ष की शुक्रवार को सर्पदंश से मौत हो गई। तीन दिन पूर्व उसे किसी विषैले सांप ने डंस लिया था। घटना के बाद परिजनों ने उसे आनन-फानन सीएचसी में भर्ती कराया। यहां के डॉक्टरों ने बेहतर इलाज के लिए उसे रिम्स रेफर कर दिया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। ग्रामीणों ने बताया कि घटना के दिन मध्य रात्री के समय जब वह घर में सो रहा था। इसी दौरान उसे विषैले सांप ने डंस लिया। पोस्टमार्टम के बाद मृतक का शव गांव पहुंचते ही गांव में मातम पसर गया है। इधर परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। मृतक अपने पीछे पत्नी बलिया देवी, पुत्री अम्बिका कुमारी 14 वर्ष, बिकी कुमार व देवासी करमाली छोड़ गया। हादसे के बाद मृतक के परिजन बेसहारा हो गए हैं। इधर हादसे के बाद ग्रामीण सांप को बर्तन में ढक कर जिंदा रखे हुए थे। लेकिन प्रकाश मर जाने की सूचना मिलते ही गुस्साए ग्रामीणों ने सांप को मौत के घाट उतार दिया।

क्या कहते हैं डॉक्टर

चितरंजन सेवा सदन के डॉ अरुण कुमार ने कहा कि सर्प दंश के शिकार व्यक्ति काटे हुए स्थान में अगर सुई चुभने जैसा चार निशान दिखाई दे और पीड़ित व्यक्ति को वहां पर जलन और दर्द का एहसास हो तो समझ लेना चाहिए कि उसे किसी जहरीले सांप ने काट लिया है। ऐसे में पीड़ित व्यक्ति के शरीर को स्थिर रखना चाहिए, ताकि रक्तचाप स्थिर रहे। ऐसा करने से अधिक तेजी से जहर नहीं फैलता है। इसके बाद तुरंत उसे अस्पताल में भर्ती कराना चाहिए।

संबंधित खबरें