अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

श्री कृष्ण विद्या मंदिर में मनी मेजर ध्यानचंद जयंती आज दिनांक 29 -08 -2018 को श्री कृष्ण विधा मंदिर के प्रांगण में मेजर ध्यानचंद की जन्म तिथि मनाई गई | इस अवसर पैर विधालय की प्राचार्या श्रीमती जयंती नायर ने मेजर ध्यानचंद के चित्र पैर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी |इस मौके पर विधालय की छात्रा आनामीका कुमारी (11 sci ) ने मेजर ध्यानचंद की उपलब्धियों , खेलप्रणाली तथा निर्दोष तकनीक पर विस्तार से प्रकाश डाला | मौके पर विधालय परिसर में कैरम , कबड्डी तथा हॉकी के मैच कराये गए | इस मौके पर विधालय की प्राचार्या श्रीमती जयंती नायर ने कहा की मेजर ध्यानचंद हॉकी के जाउगार थे | उनके विजयी खेलो से हमे प्रेरणा लेनी चाहिए | इस तरह के आयोजनों से छात्रों में खेल के प्रति सकारात्मक सोच एवं ऊर्जा का विकास होता है | इस कार्यक्रम को सफल बनाने में खेल प्रशिक्षक श्री मनोरंजन चौधरी , श्री अनिल सिंह , श्री सुरेंद्र प्रसाद आदि की भूमिका सराहनीये रही | श्रीमती जयंती नायर ( प्रधानाचार्या ) श्री कृष्ण विधा मंदिर में ने मेजर ध्यानचंद को याद किया | आज दिनांक 29 -08 -2018 को श्री कृष्ण विधा मंदिर के प्रांगण में मेजर ध्यानचंद की जन्म तिथि मनाई गई | इस अवसर पैर विधालय की प्राचार्या श्रीमती जयंती नायर ने मेजर ध्यानचंद के चित्र पैर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी |इस मौके पर विधालय की छात्रा आनामीका कुमारी (11 sci ) ने मेजर ध्यानचंद की उपलब्धियों , खेलप्रणाली तथा निर्दोष तकनीक पर विस्तार से प्रकाश डाला | मौके पर विधालय परिसर में कैरम , कबड्डी तथा हॉकी के मैच कराये गए | इस मौके पर विधालय की प्राचार्या श्रीमती जयंती नायर ने कहा की मेजर ध्यानचंद हॉकी के जाउगार थे | उनके विजयी खेलो से हमे प्रेरणा लेनी चाहिए | इस तरह के आयोजनों से छात्रों में खेल के प्रति सकारात्मक सोच एवं ऊर्जा का विकास होता है | इस कार्यक्रम को सफल बनाने में खेल प्रशिक्षक श्री मनोरंजन चौधरी , श्री अनिल सिंह , श्री सुरेंद्र प्रसाद आदि की भूमिका सराहनीये रही | श्रीमती जयंती नायर श्री कृष्ण विद्या मंदिर में याद किए गए मेजर ध्यानचंद

श्री कृष्ण विद्या मंदिर में बुधवार को मेजर ध्यानचंद की जयंती मनाई गई। इस अवसर पर प्राचार्या जयंती नायर ने मेजर ध्यानचंद के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर छात्रा आनामिका कुमारी ने मेजर ध्यानचंद की उपलब्धियों , खेल प्रणाली और तकनीक पर विस्तार से प्रकाश डाला। मौके पर विद्यालय परिसर में कैरम , कबड्डी तथा हॉकी के मैच कराये गए। इस मौके पर विद्यालय की प्राचार्या जयंती नायर ने कहा की मेजर ध्यानचंद हॉकी के जादूगार थे। उनके विजयी खेलों से हमे प्रेरणा लेनी चाहिए। इस तरह के आयोजनों से छात्रों में खेल के प्रति सकारात्मक सोच एवं ऊर्जा का विकास होता है। कार्यक्रम को सफल बनाने में खेल प्रशिक्षक मनोरंजन चौधरी , अनिल सिंह, श्री सुरेंद्र प्रसाद आदि का नाम शामिल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Major Dhyanchand remembered in the Shri Krishna Vidya Mandir