DA Image
Tuesday, November 30, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंड रामगढ़मानवता: फल व दवा लेकर सुमित्रा से मिलने चिट्टो पहुंचे रामगढ़ एसपी

मानवता: फल व दवा लेकर सुमित्रा से मिलने चिट्टो पहुंचे रामगढ़ एसपी

हिन्दुस्तान टीम,रामगढ़Newswrap
Wed, 27 Oct 2021 03:03 AM
मानवता: फल व दवा लेकर सुमित्रा से मिलने चिट्टो पहुंचे रामगढ़ एसपी

भुरकुंडा। निज प्रतिनिधि

आज जहां पुलिस का नाम सुनते ही लोगों में कई तरह के भाव पैदा हो जाते हैं, ऐसे में रामगढ़ एसपी प्रभात कुमार ने मानवता की मिसाल पेश की है। अपनी पहल से उन्होंने पुलिस-पब्लिक के बीच की खाई को भी मिटाने का प्रयास किया। महज 8 वर्ष की मासूम सुमित्रा का हाल-चाल जानने रामगढ़ एसपी प्रभात कुमार मंगलवार को आचानक भदानीनगर के चिट्टो गांव पहुंचे। वे अपने साथ इलाजरत सुमित्रा की दवा और फल भी लाए थे। गांव में घर के सामने दूसरे बच्चों को खेलता देख रही सुमित्रा एसपी को एकाएक देखकर पहले चौंकी, फिर मुस्कुरा कर उनका मौन अभिवादन किया। एसपी ने यहां माहौल को सहज बनाते हुए सुमित्रा से बातचीत की। तबीयत के बारे पूछने के बाद पांव का जख्म देखा।

जरूरत पड़ी तो दिल्ली में कराउंगा इलाज: एसपी

यहां एक बार पुन: एसपी ने सुमित्रा के माता-पिता को आश्वस्त करते हुए कहा कि आप इलाज की इसकी चिंता ना करें। जरूरत पड़ी तो मैं इसका इलाज दिल्ली में करवाऊंगा। बताते चलें कि तकरीबन 5 वर्ष पूर्व ट्रैक्टर की चपेट में आने से सुमित्रा का बायां पांव बुरी तरह जख्मी हो गया था। चूंकि सुमित्रा के पिता चमन गंझू पेशे से दिहाड़ी मजदूर हैं, इसलिए वे चाह कर भी उसका समुचित इलाज नहीं करवा पा रहे थे। इधर जब इसकी खबर एसपी प्रभात कुमार को लगी तो उन्होंने ना सिर्फ सुमित्रा की सुधि ली, अपितु उसे रांची रिम्स में भर्ती करवा कर इलाज करवाया। इसके बाद भी वे लगातार उसे दवा के साथ खाने-पीने की चीजें उपलब्ध करवाते आ रहे हैं। मौके पर एसपी ने कहा कि मानवता से बड़ा कोई धर्म नहीं होता। यदि आपके थोड़ा प्रयास करने से किसी की जिंदगी संवर सकती है तो वो प्रयास जरूर करना चाहिए। यहां एसपी के साथ पतरातू सर्किल इंस्पेक्टर लीलेश्वर महतो और भदानीनगर ओपी प्रभारी सोनू कुमार भी मौजूद थे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें