DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दलित फ़ाउन्डेशन के डायरेक्टर स्वयंसेवकों से मिले

दलित फ़ाउन्डेशन के डायरेक्टर स्वयंसेवकों से मिले

दलित फ़ॉन्डेशन सह दलित शक्ति केंद्र के नानिदेवती गुजरात के डायरेक्टर प्रदीप मौर्या ने बुधवार को गोला क्षेत्र के दलित बहुल हेसल, केंदुवाडीह, नावाडीह, उड़ुसांड़म, चोकाद आदि गांवों का दौरा किया और विशेष कर दलितों के साथ बैठक कर छूआछूत, भेदभाव, शिक्षा, पंचायती व्यवस्था, महिला हिंसा व अन्य कई विंदूओं पर चर्चा की गई। श्री मौर्या ने केंद्र सरकार की डीएसके योजना के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि गांव के चिहिन्त स्वयं सेवकों के व्यक्तित्व विकास, कानून,स्किल डेवलपमेंट समेत दस तरह के खेल कूद प्रतियोगिता में भाग लेने का मौका मिलता है। दलित फ़ाउन्डेशन से संचालित पुस्तकालय में अध्ययनरत बच्चों से संस्था के निदेशक मिले और उनकी दिनचर्या की जानकारी ली। उन्होंने केंदुवाडीह व नावाडीह का दौरा कर पुस्तकाल के बच्चों के बच्चों को खेल विधि से कई रोचक जानकारी दी। उन्होंने समता सैनिक दल को मजबूत करने पर बल देते हुए अम्बेडकर ग्रुप के क्रिाकलापों और आरक्षण में छेड़छाड़ विषय पर चर्चा की। चार स्वयं सेवकों को फेलोशिप देने की बात कही। मौके पर सुषमा कुमारी, सरुबला कुमारी, कुंती कुमारी, शिला कुमारी, भारती कुमारी, पुष्पा कुमारी पंचमी कुमारी, अनिता मुर्मू, रीता देवी, प्रमिला कुमारी, आरती कुमारी, कमलेश कुमार, विजय मुंडा सरिता कुमारी, मंजीत राम, जयदीप कुमार, लखित रविदास, बासुदेव मुंडा, संजय नायक, तुलसी बेदिया, मधुसूदन बेदिया, गोपी कोटवार, मुकेश कोटवार आदि उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Director of Dalit Foundation meets self-helpers