DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भूख से मौत में सरकार पर दर्ज करें हत्या का केस

भूख से मौत में सरकार पर दर्ज करें हत्या का केस

झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने राज्य में भूख से हुई मौत के मामले में रविवार को वेस्ट बोकारो ओपी में एक आवेदन दिया है। इसमें राज्य सरकार और वर्तमान व्यवस्था को भूख से हुई मौतों के लिए जिम्मेवार बताते हुए हत्या का मामला दर्ज किए जाने का आग्रह किया गया है।

आवेदन में डा कुमार ने कहा है कि 24 जुलाई को जरहैया निवासी राजेंद्र बिरहोर की मौत प्रशासन की लापरवाही के कारण हुई। इसी तरह कुजू के कुंदरिया निवासी चिंतामणि मल्हार की मौत भी प्रशासनिक उदासीनता से हुई। आवेदन में 28 सितंबर, 2017 से 25 जुलाई, 2018 के बीच भूख से हुई मौतों का विवरण दिया गया है। कहा गया है कि इन मौतों के लिए सरकार और प्रशासन जिम्मेवार है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने अपने आवेदन में मुख्यमंत्री, खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री और कल्याण मंत्री के साथ प्रधान सचिव, सचिवों, संबंधित जिला के उपायुक्तों पर षडयंत्र और मिलीभगत के तहत जान मारने की धाराओं में मामला दर्ज कर उचित कार्रवाई का आग्रह किया है।

इससे पहले रविवार को झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डा. अजय कुमार रविवार को एक दर्जन गाडियों के काफिले के साथ जरहैया बस्ती स्थित स्व. राजेन्द्र बिरहोर के घर पहुंचे। वहां उन्होंने स्व. राजेन्द्र बिरहोर की विधवा पत्नी शांति देवी और उनके बच्चों से औपचारिक मुलाकात कर मौत के कारणों का पता लगाने का प्रयास किया। इसके उपरांत उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं से पीड़ित परिवार को सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने का आदेश दिया और शांति मोसमात को सहयोग राशी प्रदान किया। यहां से डा. अजय सीधे वेस्ट बोकारो ओपी पहुंचे और ओपी प्रभारी रोमेश्वर भगत को सरकार के विरुद्ध तैयार किये गए तीन पेज का आवेदन सौंपा। आवेदन में कहा गया है कि झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास, खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री सरयू राय, स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी, कल्याण मंत्री लुईस मरांडी के साथ साथ प्रधान सचिव, सचिवों, संबंधित जिला के उपायुक्त पूर्ण रुप से दोषी हैं। इसलिए इन सभी पर षड़यंत्र और मिलीभगत के तहत जान से मारने के दफा का मामला दर्ज कर उचित कानूनी कार्रवाई किया जाय। ताकि गरीब परिवार वालों की जान की रक्षा हो और आगे काई सरकारी लापरवाही से मौत ना हो सके। मौके पर मुख्य रुप से केसर महतो, कमलेश सुधीर कुमार सिंह, दयानंद महतो, सुरेश महतो, विजय राम, मुन्ना पासवान, बसंत महतो, जाबीर हसन, रियान अहमद, सागर महतो सहित दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Congress chief asks Congress to file FIR against Chief Minister