DA Image
21 अक्तूबर, 2020|8:46|IST

अगली स्टोरी

प्रशिक्षु आईएएस की टीम ने ग्रासिम इंडस्ट्रिज में जांच की

default image

उपायुक्त श्री शशि रंजन के निदेश पर प्रशिक्षु आईएएस दिलीप प्रताप सिंह शेखावत के नेतृत्व में चार सदस्यीय टीम पलामू जिले के रेहला पहुंचकर बुधवार को ग्रासीम इंडस्ट्रीज से निकलने वाली अपशिष्ट पदार्थों से संबंधित जांच की। इस क्रम में पाया गया कि ग्रासीम इंडस्ट्रीज परिसर से होकर दो नदियां भेलवा नदी और छलिया नदी कोयल नदी में जाकर मिलती है। टीम ने हानिकारक अपशिष्ट पदार्थों से होने वाले दुष्प्रभाव को जानने के लिए दोनों नदी से सैंपल लिया गया। साथ ही वहां के ग्राउंड वाटर का भी सैंपल लिया है। दोनों सैंपल को जांच के लिए प्रयोगशाला में भेजा जाएगा। साथ ही हानिकारक अपशिष्ट पदार्थों को नदी में नहीं छोड़ने और ग्राउंड वाटर को दूषित नहीं करने, पर्यावरण को दूषित नहीं करने और पर्यावरण का संरक्षण करने का सख्त निर्देश भी ग्रासिम इंडस्ट्रिज के के अधिकारियों को दिया गया। फैक्ट्री क्षेत्र के आसपास रहने वाले ग्रामीणों की शिकायत पर टीम जांच करने पहुंची थी। ग्रामीणों की शिकायत थी कि फैक्ट्री से निकलने वाले हानिकारक अपशिष्ट पदार्थों से नदियां दूषित हो रही है। साथ ही पर्यावरण भी प्रदूषित हो रहा है। वहीं ग्राउंड वाटर भी प्रदूषित हो गया है, जिससे आमजनों को पेयजल संबंधी भारी समस्या हो रही है। साथ ही.स्वास्थय पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Trainee IAS team investigated at Grasim Industries