DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेदिनीनगर में होगा राजकीय आयुष सम्मेलन

जिला संयुक्त औषधालय परिसर में गुरुवार को पलामू प्रमंडल के एनएचएम आयुष चिकित्सक की हुई बैठक में सर्वसम्मति से सितंबर के अंतिम सप्ताह में राजकीय आयुष सम्मेलन करने का निर्णय लिया गया। इस सम्मेलन के माध्यम से आयुष पद्धति के प्रति आम लोगों का ध्यान खींचने का प्रयास किया जाएगा। आयुष अर्थात आयुर्वेद, योगा/नेचुरोपैथी, यूनानी, सिद्धा एवं होमियोपैथी आदि प्राचीन भारतीय चिकित्सा पद्धति बीमारियों को ठीक करने में काफी कारगर साबित हुआ है। लोगों का विश्वास भी आयुष पद्धति के प्रति बढ़ा है और इसका फायदा भी मिल रहा है। सरकार भी काफी गंभीर है और आयुष को बढ़ावा के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है।

डॉ. एमएम प्रसाद के नेतृत्व में बनी समिति

आयुष सम्मेलन को लेकर एक समिति भी बनाई गई जिसमें अध्यक्ष डॉ एम एम प्रसाद, उपाध्यक्ष डॉ मंजूर आलम, डॉ रामविलास ठाकुर, डॉ कुमुद रंजन, सचिव डॉ आनन्द, उप-सचिव डॉ साजिद, कोषाध्यक्ष डॉ राजेश कुमार केशरी, डॉ. बिनीत कुमार, मीडिया प्रभारी डॉ सोमनाथ चक्रधर को बनाया गया है। पलामू से डॉ अमित कुमार मिश्रा, डॉ राजीव कुमार, डॉ एमके निराला, गढ़वा से डॉ पतंजलि केशरी, डॉ नितेश भारती, डॉ राकेश रंजन गुप्ता एवं लातेहार से डॉ राजेश झा, डॉ देवेन्द्र कुमार को कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया है।

जिला आयुष चिकित्सा पदाधिकारी ने आगे बढ़ने को किया प्रेरित

बैठक में जिला आयुष चिकित्सा पदाधिकारी डॉ शिव शंकर पांडेय ने समिति के सभी पदाधिकारियों को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। समिति के अध्यक्ष डॉ एमएम प्रसाद ने कहा कि प्रस्तावित सम्मेलन में मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, पलामू प्रमंडल के विधायक, अभियान निदेशक, आयुष निदेशक, तीनों जिला के उपायुक्त, सिविल सर्जन एवं जिला आयुष चिकित्सा पदाधिकारी को अतिथि आमंत्रित किया जाएगा। मौके पर डॉ विश्वजीत सिंह, डॉ रंजीत कुमार, डॉ सत्यम सौरभ, डॉ सुनील कुमार सिंह, डॉ नीतीश भारद्वाज आदि उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:State Ayus chikitsak conference will be held at Medininagar in last week of September