DA Image
26 अक्तूबर, 2020|1:22|IST

अगली स्टोरी

छतरपुर व मनातू में आरा मशीन सीज

default image

छतरपुर अनुमंडल के अमवाडीह गांव में अवैध रूप से संचालित किए जा रहे आरा मिल को वन विभाग ने सोमवार को सीज किया है। वहीं मंगलवार को पुलिस के साथ मिलकर वन विभाग की टीम ने मनातू थाना क्षेत्र के मिटार क्षेत्र में संचालित एक आरा मशीन को सीज किया है। मनातू क्षेत्र में आरा मशीन जंगल के बीच में स्थित था जहां से कीमती लकड़ियों की कटाई व चिराई कर बाहर भेजा जाता है। छतरपुर में एससीएफ रामसूरत प्रसाद और छतरपुर पूर्वी वन क्षेत्र पदाधिकारी विनोद कुमार के नेतृत्व में कार्रवाई की गयी थी। छतरपुर पूर्वी के वन क्षेत्र पदाधिकारी विनोद कुमार ने बताया कि अवैध रूप से आरा मिल चलाने की सूचना मिल रही थी जिसके आलोक में यह कार्रवाई की गई। संबंधित आरा मिल का संचालन कृष्णा प्रसाद करता था जो उसी गांव का रहने वाला था। आरा मशीन के अलावा मौके पर मौजूद लकड़ी भी सीज किया गया है। विभाग आगे की कार्रवाई कर रही है। उल्लेखनीय है कोरोना संकट काल में आवागमन बंद रहने व जंगली क्षेत्र में भी सन्नाटा पसर जाने के कारण टिंबर तस्करों की चांदी हो गयी है। पांकी क्षेत्र में बड़े पैमान पर टिंबर तस्करों ने कीमती पेड़ों को काटकर पर्यावरण को काफी नुकसान पहुंचाया है। इसके अलावा भी अन्य सभी वन क्षेत्रों में वन संपदा को काफी नुकसान पहुंचाया गया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sawing machine machine in Chhatarpur and Manatu