DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पारा शिक्षकों के हित में आंदोलन करने का निर्णय

एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा की बैठक में पारा शिक्षकों के हित में आंदोलन करने का निर्णय लिया गया। शनिवार को जिला स्कूल के प्रशाल में मोर्चा की बैठक जिलाध्यक्ष ऋषिकांत तिवारी की अध्यक्षता और उपेन्द्र पाठक के संचालन में हुई। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी ने कहा कि छठनी हो रहे पारा शिक्षकों को बचाना संघ का धर्म और दायित्व है। उन्होंने कहा कि राज्य के एक भी पारा शिक्षक की छटनी नहीं होने देंगे। इसके लिए जोरदार आंदोलन की शुरूआत की जाएगी।

प्रमंडलीय अध्यक्ष सुरेन्द्र पांडेय ने कहा कि शिक्षकों को भयादोहन करना सरकार छोड़ दे,वरना जोरदार आंदोनल चलाया जाएगा। जिलाध्यक्ष ऋषिकांत तिवारी ने कहा कि पारा शिक्षकों से ज्यादा दोषी शिक्षा विभाग के पदाधिकारी हैं। अगर पदाधिकारी को हिम्मत है तो एक भी पारा शिक्षक का छटनी कर देखे,उससे पहले विभाग के पदाधिकारी कटघरे में नजर आयेंगे। बैठक में मुख्य रूप से मिथिलेश उपाध्याय, जितेन्द्र कुमार, संजय पांडेय, सतीश पांडेय, जनेश्वर सिंह, मो. इमामुद्दीन अंसारी, अशोक प्रसाद, श्रवण कुमार, राकेश प्रसाद, दिनेश कुमार समेत काफी संख्या में पारा शिक्षक उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Para teacher decided for agitation