DA Image
29 सितम्बर, 2020|4:23|IST

अगली स्टोरी

जयपुर की चूड़ी फैक्ट्री में बेच दिये गये पलामू में नौ बच्चे किये गये पुनर्वासित

default image

पैसे के लिए पलामू के जिन नौ बच्चों को राजस्थान के जयपुर स्थित चूड़ी फैक्ट्री में बेच दिया गया था उन्हें डीसीपीयू की पलामू यूनिट और चाइल्ड लाइन के सहयोग से 30 अगस्त को पुनर्वासित कराया गया। पुनर्वासित कराए गए सभी बच्चे पलामू जिला स्थित मनातू के विभिन्न गांव के निवासी हैं। इन बच्चों में एक महज आठ वर्ष का है। बच्चों के पुनर्वास कार्यक्रम का आयोजन चाइल्ड लाइन सब-सेंटर के सदस्य कमलेश के आवासीय परिसर में किया गया। बच्चों के अभिभावकों को बुला और कागजी कार्रवाई पूरी कर उन्हें उनके माता-पिता को सौंप दिया गया। बच्चों ने बताया कि लॉकडाउन से पहले उन्हें जयपुर ले जाया गया था। मौके पर चाइल्ड लाइन के डायरेक्टर सह संपूर्ण ग्राम विकास केंद्र के सचिव विनोद कुमार, समन्वयक चाइल्ड लाइन पलामू राजदेव प्रसाद वर्मा, सदस्य संदीप कुमार उपस्थित थे। बच्चों के माता-पिता ने इस क्रम में बताया कि इन बच्चों को बहला-फुसलाकर तसव्वुर खान ने राजस्थान के जयपुर स्थित चूड़ी फैक्ट्री में बेच दिया था। कुछ लोगों का यह भी कहना है कि तसव्वुर खान की जयपुर में चूड़ी की फैक्ट्री है। सीडब्ल्यूसी की जयपुर ( राजस्थान ) टीम ने अपने छापामारी के अभियान के दौरान चूड़ी फैक्ट्री से 38 बच्चों को रेस्क्यू किया था। उन 38 बच्चों में पलामू स्थित मनातू प्रखंड के नौ बच्चे शामिल थे और बाकी सभी झारखंड के अन्य जिलों के बच्चे थे। उन बच्चों को सीडब्ल्यूसी और चाइल्ड लाइन जयपुर के द्वारा बच्चों को धनबाद सीडब्ल्यूसी को सौंप दिया गया था। सीडब्ल्यूसी के निर्देश पर पलामू के बच्चों को लाने के लिए 25 अगस्त को पलामू के डीसीपीओ प्रकाश कुमार और चाइल्ड लाइन पलामू के सदस्य संदीप कुमार धनबाद गये। 26 अगस्त की रात दो बजे नौ बच्चों को मेदिनीनगर लेकर आये तथा उन्हें बाल गृह में रखा गया था। इसके बाद सीडब्ल्यूसी के निर्देश पर चाइल्ड लाइन पलामू ने बालगृह पलामू से बच्चों को लेकर पुनर्वास के लिए मनातू स्थित पदमा गांव पहुंची। पुनर्वास कार्यक्रम के दौरान बच्चों के माता-पिता व अभिभावकों व अन्य ग्रामीणों से चाइल्ड पलामू के डायरेक्टर विनोद कुमार ने बाल अधिकार पर चर्चा करते हुए कहा कि बच्चों को सुरक्षित, संरक्षित और शिक्षित करने के लिए जागरूक और संगठित रहना जरूरी है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Nine children rehabilitated in Palamu sold in Bangle factory in Jaipur