DA Image
22 फरवरी, 2020|9:29|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अगले साल एनपीयू में हो जायेंगे 11 अंगीभूत कॉलेज, किंतु शिक्षकों 100 भी नहीं

default image

फिलवक्त पांच अंगीभूत महाविद्यालय वाला नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय में अगले साल 11 अंगीभूत कॉलेज हो जायेगा। छह नये डिग्री कॉलेज परिसर का निर्माण अंतिम चरण में है। शेष काम तीव्र गति चल रहा है जो 2020 में पूरा जो जाएगा। इससे स्नातक स्तर की पढ़ाई विद्यार्थी अपने-अपने क्षेत्र में ही कर सकेंगे। हालांकि योग्यता की पूछ वाले वर्तमान युग में गुणवतायुक्त शिक्षण के लिए एनपीयू के पास फिलवक्त काफी कम अध्यापक हैं। अंगीभूत महाविद्यालयों की संख्या बढ़ने के बावजूद तबतक बेहतर शिक्षा संभव नहीं है जबतब पर्याप्त संख्या में योग्य शिक्षक विश्वविद्यालय को उपलब्ध नहीं हो जायें। फिलवक्त एनपीयू में शिक्षकों की संख्या 100 भी नहीं है। विभिन्न कॉलेज में कई विभाग बगैर नियमित शिक्षक के संचालित हैं। 2008 के बाद से प्राध्यापकों की नियुक्ति नहीं हुई है जबकि हर साल शिक्षक सेवानिवृत भी हो रहे हैं। यही एनपीयू प्रबंधन की सबसे बड़ी समस्या बनी हुई है। पांच अंगीभूत कॉलेज में 40 हजार विद्यार्थी हैं अध्ययनरत:एनपीयू के दो प्रीमियर संस्थान जीएलए कॉलेज और योध सिंह नामधारी महिला के अलावा, जेएस कॉलेज, एसएसजेएसएन कॉलेज, गढ़वा और राजकीय डिग्री कॉलेज, मनिका में 40 हजार से अधिक विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। मनिका का राजकीय डिग्री कॉलेज अभी प्लस-2 बालिका हाई स्कूल के परिसर में संचालित हो रहा है। तीन-चार माह में मनिका डिग्री कॉलेज अपने भवन में संचालित होने लगेगा। एनपीयू के सीसीडीसी डॉ एके पांडेय ने बताया कि 2020 में छतरपुर डिग्री कॉलेज, हुसैनाबाद डिग्री कॉलेज, भवनाथपुर डिग्री कॉलेज, मॉडल कॉलेज लातेहार, मॉडल कॉलेज पलामू, और मॉडल कॉलेज गढ़वा का निर्माण कार्य पूर्ण हो जाएगा। मॉडल कॉलेजों का निर्माण कार्य 85 प्रतिशत अधिक काम पूर्ण हो चुका है। विश्रामपुर विधानसभा और पांकी विधान सभा में भी एक-एक डिग्री कॉलेज प्रस्तावित है। सभी विधानसभा क्षेत्रों में एक-एक सरकारी कॉलेज और पलामू प्रमंडल के तीनों जिले में एक-एक मॉडल कॉलेज हो जाएगा तब विद्यार्थियों को राहत मिलेगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Next year 11 colleges will be held in NPU but not even 100 teachers