Many organizations demand justice for Priyanka through poster Protest - कई संगठनों ने पोस्टर प्रोटेस्ट के माध्यम से प्रियंका को न्याय देने की मांग DA Image
14 दिसंबर, 2019|5:45|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कई संगठनों ने पोस्टर प्रोटेस्ट के माध्यम से प्रियंका को न्याय देने की मांग

default image

संस्कृतकर्मियों और आम नागरिकों ने हैदराबाद में मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना के बाद पोस्टर प्रोटेस्ट के माध्यम से डॉ प्रियंका रेडी को न्याय दिलाने की मांग की। इप्टा के पहल पर आयोजित प्रोटेस्ट में मल्टी आर्ट एसोसिएशन, मासूम आर्ट ग्रुप, सवेरा कला मंच, नई संस्कृति सोसाइटी, प्रगतिशील लेखक संघ, भारत ज्ञान विज्ञान समिति के अलावा आम नागरिक और महिलाओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। सभी कलात्मक पोस्टर के जरिए डॉ प्रियंका रेड्डी को न्याय दिलाने की मांग कर रहे थें। साथ ही महिला सशक्तिकरण के इस दौर में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के नारे को धता बताते हुए पोस्टरों के जरिए सरकार से भी सवाल पूछा गया कि आखिरकार कब तक हमारी बहन -बेटियां ऐसे ही लुटती रहेंगी? आखिर उनको भी सम्मान के साथ जीने का पूरा हक है। कचहरी परिसर में जमा हुए संस्कृतकर्मियों का समूह कलात्मक पोस्टर लिए छहमुहान तक गया। जहां पोस्टर के माध्यम से लोगों से अपील की गई कि वह भी इस मुहिम का हिस्सा बने। साथ ही सरकार से मांग किया गया कि दोषियों को गिरफ्तार कर जल्द से जल्द कठोर सजा दी जाए और बलात्कार जैसे जघन्य अपराध के लिए कड़ा कानून भी बनाया जाए। ताकि आगे से ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो। इप्टा के कलाकरों ने कई जनवादी गीत प्रस्तुत किया। महिलाओं के लिए आज़ादी की मांग करते हुए आजादी ही आजादी... गीत के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया। मौके पर आकाशवाणी उद्घोषिका स्मृति लाल, शालिनी श्रीवास्तव, सामाजिक कार्यकर्ता शर्मिला सुमि, कलाकार मुनमुन चक्रवर्ती, वंदना श्रीवास्तव, मनीषा कुमारी, पूनम विश्वकर्मा, दिव्या भगत, उपेंद्र मिश्रा, विनोद पांडेय, शब्बीर अहमद, मृत्युंजय शर्मा, संजीत प्रजापति, संजीव सिंह, अजीत पाठक, प्रेम प्रकाश, शिवशंकर प्रसाद, आलोक श्रीवास्तव, विकास कुमार पप्पू समेत काफी संख्या में महिला -पुरूष शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Many organizations demand justice for Priyanka through poster Protest