DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाजपा नेता और बेटी की हत्या के मुख्य आरोपी समेत तीन को भेजा

भाजपा नेता सुरेन्द्र प्रसाद गुप्ता और उनकी बेटी सिम्पी कुमारी की हत्या का खुलासा करते हुए पलामू पुलिस ने घटना में शामिल तीन अरोपियों को गिरफ्तार कर शुक्रवार को जेल भेज दिया। पलामू एसपी इन्द्रजीत महथा ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि 29 अगस्त को चैनपुर थाना क्षेजेल त्र स्थित शाहपुर में सुरेन्द्र प्रसाद गुप्ता और उनकी बेटी सिम्पी कुमारी की गोली मारकर राहुल पासवान ने हत्या कर दी थी। पुलिस ने हत्या में शामिल तीन आरोपियों राहुल पासवान, ललित कुमार और राजेश पासवान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। एसपी ने बताया कि दोहरे हत्याकांड के पीछे प्रेम प्रसंग का मामला है। आरोपी राहुल पासवान ने पुलिस के सामने हत्याकांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली है। उसने पुलिस को बताया कि सुरेन्द्र प्रसाद गुप्ता और उनकी बेटी सिम्पी को मैंने ही गोली मारी है। एसपी ने बताया कि हत्या में शामिल ललित और ड्राइवर राजेश पासवान राहुल के दोस्त हैं। राजेश सुरेन्द्र प्रसाद गुप्ता की स्कॉर्पियो गाड़ी चलता था। राजेश पासवान राहुल पासवान को सुरेन्द्र के घर कि सारी बातें फोन कर बताता था। ललित राहुल पासवान के साथ हमेशा रहता था। घटना के दिन दोनों गढ़वा से बस में सवार होकर साथ आये थे। एसपी ने बताया कि लड़की और राहुल के बीच 2011-12 से प्रेम प्रसंग चल रहा था और वे दोनों एक-दूसरे से शादी करना चाहते थे। लेकिन राहुल के फैसले का लड़की के पिता विरोध करते थे।3.15 बोर के देसी कट्टे से की दोनों की हत्या एसपी इन्द्रजीत महथा ने बताया कि सुरेन्द्र प्रसाद गुप्ता और उनकी बेटी सिंपी कुमारी की 3.15 बोर के देसी कट्टे से गोली मारकर हत्या की गई है। हत्या में इस्तेमाल कट्टा और तीन गोलियां पुलिस ने बरामद की हैं। एसपी ने बताया कि राहुल ने पहले लड़की के पिता को सिर के पीछे सिरे में गोली मारी, उसके बाद लड़की को गर्दन में गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। एसपी ने बताया कि हत्या में इस्तेमाल कट्टा गढ़वा के बरडीहा से खरीदा गया था।माफी मांगने के लिए आया था राहुलपलामू एसपी इन्द्रजीत महथा ने बताया कि पूछताछ के क्रम में राहुल ने बताया कि सुरेंद्र प्रसाद ने उसे फोन कर माफी मागने के लिए शाहपुर स्थित घर पर बुलाया था। इस बीच सुरेन्द्र के ड्राइवर राजेश पासवान ने उसे फोन पर बताया कि हत्या करने के लिए उसे बुलाया गया है। इसी वजह से वह अपने साथ गोली-बंदूक भी लेकर आया था।44 बार हुई है बातचीत पलामू एसपी इन्द्रजीत महथा ने बताया राहुल के मोबाइल का सीडीआर निकला गया। इसमें दोनों के बीच 44 बार बातचीत हुआ है। इसमें ज्यादा कॉल सुरेन्द्र प्रसाद गुप्ता ने राहुल को किया था। वही लड़की के भाई अभय से 17 बार बात हुई है। इसमें सात बार राहुल ने कॉल किया है और 10 बार अभय ने।राहुल और शिम्पी ने गढ़वा से भागकर की थी शादीपलामू एसपी इन्द्रजीत महथा ने बताया कि एक साल पहले राहुल और सिम्पी ने गढ़वा से भागकर राजा पहाड़ी मंदिर में शादी कर ली थी। राहुल के मोबाइल में सिम्पी और राहुल का सिंदूर और बिंदी लगाये हुए फोटो है। हालांकि मंदिर में इसका कोई रिकॉर्ड नहीं है। परीक्षा की तैयारी करने के दौरान हुआ था प्यार एसपी ने बताया कि राहुल और सिम्पी के बीच 2011 में गढ़वा में एक-दूसरे से प्यार हुआ था। उन्होंने बताया कि सिम्पी और राहुल के जीजा का घर गढ़वा में एक-दूसरे के अगल-बगल था। दोनों परीक्षा की तैयारी के लिए गढ़वा गए थे अपने-अपने रिश्तेदार के घर। इसी बीच रोज शाम को दोनों छत पर मिलने लगे और उनमें नजदीकियां बढ़ गईं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Main accused of murder of BJP leader and her doughter was booked for jail with two assistant accused