K, broken, hoarse, hoarse, ki, made, - गोदरमा के टूटे हुए आहर की करायी गयी मरम्मति DA Image
13 दिसंबर, 2019|6:14|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोदरमा के टूटे हुए आहर की करायी गयी मरम्मति

विश्रामपुर नगर पंचायत का बड़ा हिस्सा अब भी खेतीबारी पर निर्भर है। इसके कारण सिंचाई कूप, आहर, तालाब, डोभा आदि सिंचाई यूनिट का निर्माण और मरम्मत यहां के किसानों के लिए मायने रखता है परंतु शहरी क्षेत्र होने के कारण मनरेगा से कोई काम नगर पंचायत क्षेत्र में हो नहीं सकता जिसके कारण किसानों को बहुसमस्या का सामना करना पड़ रहा है। गत सप्ताह गोदरमा मुहल्ले के टूटे हुए नया आहर की मरम्मत कराये जाने से किसान काफी खुश हैं। करीब तीन साल पहले मुसलाधार बारिश में गोदरमा गांव का नया आहर टूट गया था। इस आहर के सहारे गोदरमा और डंडिला गांव के किसान अपनी 250 एकड़ जमीन में कम से कम धान की बेहतर फसल हासिल कर लेते थे परंतु तीन सालों से उन्हें निराशा हासिल हो रहा थे। इस आहर में भेलवा नदी का पानी जमा होता है जो किसानों के लिए लाइफ लाइन बन जाता है। किसानों ने कहा कि बारिश का पानी टूटे हुए हिस्से से बह जा रहा था। बार-बार आग्रह के बावजूद आहर की मरम्मत नहीं करवायी जा रही थी। अंतत: झारखंड नवनिर्माण मोर्चा के प्रमुख से इस दिशा में पहल करने का आग्रह किया गया। अभिमन्यू सिंह ने कहा कि उन्होंने भी अधिकारियों से इस संदर्भ में आग्रह किया परंतु समस्या को गंभीरता से नहीं लिये जाने के कारण उन्होंने निजी खर्च से अपना जेसीबी और ट्रैक्टर गोदरमा गांव भेजकर आहर की मरम्मत करा दी है। चूंकि बरसात अब सिर पर है जिसके कारण किसान निराश होने लगे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:K, broken, hoarse, hoarse, ki, made,